छत्तीसगढ़

कारोबारी को बेचने निकले तेंदुए की खाल, 2 गिरफ्तार

रायपुर

कारोबारी को बेचने निकले तेंदुए की के साथ रायपुर की माना पुलिस ने बुधवार रात दो युवकों को पकड़ा है। पुलिस ने आरोपियों के पास मौजूद सूटकेस से खाल बरामद की है। पकड़े गए दोनों आरोपी रायुपर के तेलीबांधा निवासी निखिल कुमार और बलौदाबाजार निवासी मनीष अग्रवाल हैं। दोनों को गुरुवार को जेल भेज दिया गया। माना की पुलिस को निखिल और उसका साथी अपनी स्कूटर पर बैग लादे दिखे। सादे कपड़ों में दो अफसर टहलते हुए इनके पास गए। बातों-बातों में पूछ लिया कुछ खास सामान है क्या, निखिल ने कहा हां। दूर खड़ी टीम को अफसरों ने इशारा कर दिया। निखिल और उसके साथी ने भागने की कोशिश भी की मगर धर लिए गए। जांच टीम ने सूटकेस खुलवाया तो इसमें तेंदुए की खाल रखी मिली। अब तक हुई जांच में पता चला है कि रायपुर के किसी रईस कारोबारी को खाल 10 लाख में बेची जानी थी। पुलिस गिरफ्तार हुए युवकों से उस कारोबारी के बारे में भी पूछताछ कर रही है। फिलहाल खरीदार का खुलासा नहीं हो सका है। युवकों ने बताया कि वो वीआईपी रोड इलाके में इसी वजह से आए थे कि डील हो सके। युवकों का फोन बरामद कर पुलिस उसकी भी जांच कर रही है ताकि खुलासा हो सके। गिरफ्तार हुए युवक निखिल ने बताया कि तेंदुए के शिकार में वो शामिल नहीं थे। उन्हें यह नहीं पता कि तेंदुआ किसने मारा। निखिल ने ने बताया कि कोरिया में रहने वाले उनके एक दोस्त विक्रम कुशवाह ने खाल दी थी। उसने कहा था कि कुछ शौकीन लोग इसे खरीद लेंगे और मुनाफे के लाखों रुपए बांट लिए जाएंगे। फटाफट लाखों कमाने के लालच में दोनों खाल बेचने निकल पड़े थे। पुलिस कोरिया वाले दोस्त का भी पता लगा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.