छत्तीसगढ़

जिला नहीं बनाने पर यहां चक्काजाम…. मंत्रियों से कहा- झूठ बोलकर लिए वोट

प्रतापपुर

मुख्यमंत्री द्वारा 15 अगस्त को चार नए जिले मोहला मानपुर, मन्द्रेगढ़, सारंगढ़, बिलाईगढ़ सक्ती की घोषणा की गई है। नया जिला बनने पर इन क्षेत्रों में जहां खुशी का माहौल है वहीं जिला नहीं बनाए जान पर कही गम व आक्रोश दिखाई दे रहा है। ऐसा ही मामला प्रतापपुर से सामने आया है। प्रतापपुर को नया जिला नहीं बनाए जाने पर नगरवासियों को निराशा हाथ लगी है। इस मामले को लेकर भाजपाइयों ने रविवार को राजघराना चौक पर टायर जलाकर चक्काजाम कर विरोध जताया। भाजपाइयों ने आरोप लगाया कि स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह और टीएस सिंहदेव ने जिला बनाने का झूठा वादा दिखाकर जनता से वोट लिए थे। आज जिला नहीं बनने पर इन्हें अपने पद में बने रहने का कोई अधिकार नही है। प्रतापपुर की जनता अपने आप को ठगा महसूस कर रही है। जब तक नया जिला प्रतापपुर को नही बनाया जाता तब तक भाजपा द्वारा यह आंदोलन जारी रहेगा। भाजपाइयों ने विरोध प्रदर्शन के बाद नायब तहसीलदार राधेश्याम तिर्की को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान लाल संतोष सिह, सुनील गुप्ता, अक्षय तिवारी, प्रेमपाल अग्रवाल, अम्बिका जायसवाल, अजीत शरण सिंह, गिरीश पटेल, शिवशंकर जायसवाल, लाल बहादुर गुप्ता, गुलाब तिवारी, अरविंद जायसवाल, विजेंद्र कश्यप सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे। कांग्रेसियों ने भी मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया, इसमें उल्लेख किया गया है कि राज्य में जो 4 नए जिले बने हैं, इसे लेकर सभी में हर्ष व्याप्त है, लेकिन कांग्रेस के ही घोषणा पत्र में प्रतापपुर को नया जिला बनना था जिसकी घोषणा नहीं होने से पूरे विधानसभा के लोगों मे निराशा लगी है। मुख्यमंत्री से मांग की गई है कि प्रतापपुर को यथाशीघ्र नवीन जिला बनाएं। ज्ञापन देने में जनपद अध्यक्ष जगत लाल आयाम, जनपद उपाध्यक्ष ज्योति संजीव श्रीवास्तव, नगर पंचायत अध्यक्ष कंचन सोनी, त्रिभुवन सिंह, नवीन जायसवाल, बलवीर यादव, फकरुद्दीन अंसारी, अनूप गुप्ता उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.