देश

जिम ट्रेनर ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में लिखा- गर्लफ्रेंड को अंतिम संस्कार में न आने देना

इंदौर

एक जिम ट्रेनर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. ट्रेनर ने अपनी अंतिम इच्छा में कहा है कि उसकी चचेरी बहनों को उसका मुंह न दिखाया जाए और गर्लफ्रेंड को उसके अंतिम संस्कार में न आने दिया जाए. युवक ने सुसाइड नोट में लिखा है कि अगर अंतिम इच्छा पूरी नहीं हुई तो उसकी आत्मा भटकेगी. पुलिस ने शव और सुसाइड नोट बरामद कर जांच शुरू कर दी है. संयोगितागंज पुलिस के मुताबिक, रविवार सुबह किसी ने सूचना दी कि छावनी इलाके में एक युवक आत्महत्या कर ली है. सूचना पर पुलिस पहुंची और कार्रवाई शुरू की. मृतक का नाम गोपाल पुत्र विनोद वर्मा है. वह जिम ट्रेनर है. पुलिस ने बताया कि रविवार सुबह सबसे पहले उसका शव भाई नितेश ने फंदे पर लटका देखा था. इसके बाद से वह उसे अस्पताल लेकर पहुंचा. नितेश के मुताबिक, लॉकडाउन की वजह से गोपाल ने काम करना बंद कर दिया था. गोपाल भाइयों नितेश, अंकुश और माता-पिता के साथ रहता था.

पुलिस को मिले सुसाइड नोट में गोपाल ने अपनी मर्जी से आत्महत्या करने की बात लिखी है. उसने लिखा है कि वह जो भी कर रहा है खुशी से कर रहा है. दोनों चचेरी बहनों को मेरा चेहरा मत दिखाना. प्रेमिका को भी अंतिम संस्कार में शामिल मत करना. अगर मेरी आखिरी इच्छा पूरी नहीं हुई तो आत्मा भटकती रहेगी. इस बीच पुलिस की जांच में पता चला कि गोपाल का चाचा के साथ संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है. वह चचेरी बहनों से नाराज था. परिजनों ने बताया कि गोलू और मन्नू उनकी चचेरी बहनें हैं. उनकी शादी हो चुकी है. कुछ समय से चाचा के परिवार से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है. विवाद में दोनों चचेरी बहनें दखल दे रही थीं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.