छत्तीसगढ़

जिला सुकमा के ताड़मेड़ला, कसालपाड़, बुरकापाल जैसे बड़ी घटनाओं में शामिल 8 लाख का इनामी नक्सली चढ़ा पुलिस के हत्थे

  • थाना तर्रेम, एसटीएफ और केरिपु 222 की संयुक्त कार्यवाही

बीजापुर

जिले में चलाये जा रहे माओवादी विरोधी अभियान के तहत् दिनांक 12.09.2021 को थाना तर्रेम से जिला बल, एसटीएफ एवं केरिपु 222 का संयुक्त बल पटेलपारा, गोलगुण्डा की ओर निकली थी। अभियान के दौरान दिनांक 12.09.2021 को पटेलपारा एवं गोलगुण्डा के मध्य से 01 *PLGA बटालियन नम्बर 01 का सक्रिय माओवादी मोती राम अवलम पिता पुंगारू पिता स्व0 आयतु अवलम उम्र 30 वर्ष निवासी कांडका स्कूलपारा थाना नैमेड़* को पकड़ा गया । जिस पर छत्तीसगढ़ शासन की इनाम नीति के तहत धारित पद पर 8 लाख का इनाम घोषित है जो जिला बीजापुर एवं जिला सुकमा के निम्न बड़ी घटनाओं में भी शामिल था , 1. वर्ष 2010 में ताड़मेड़ला जिला सुकमा में सुरक्षा बलों पर अटैक की घटना में शामिल था जिसमें 76 केरिपु बल के जवान शहीद हुये थे 2. वर्ष 2015 में ग्राम टोण्डामरका थाना चिंतागुफा जिला सुकमा में सुरक्षा बलों पर अटैक की घटना में शामिल जिसमें 05 जवान शहीद हुये थे। वर्ष 2016 में ग्राम कसालपाड़ थाना चिंतागुफा जिला सुकमा में केरिपु बल की सर्चिंग पार्टी पर हमला जिसमें 16 जवान शहीद हुये थे। वर्ष 2016 ग्राम पिड़मेल थाना दोरनापाल में एसटीएफ की सर्चिंग पार्टी पर हमला जिसमें 05 जवान शहीद हुये थे। वर्ष 2017 को रोड ओपनिंग पार्टी पर एम्बुश लगाकर हमला जिसमें 25 जवान शहीद हुये थे। दिनांक 19.1.2021 को थाना तर्रेम क्षेत्रान्तर्गत पूर्वती और पेद्दागेलुर के मध्य जंगलों में सुरक्षा बलों पर सिरियल ब्लास्ट एवं फायरिंग करने की घटना में शामिल था। पकड़े गये माओवादी के विरूद्ध थाना आवापल्ली में वैधानिक कार्यवाही उपरान्त माननीय न्यायालय बीजापुर पेश किया गया ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.