छत्तीसगढ़

लोक निर्माण विभाग के EE बर्खास्त: मामला फर्जी जाति प्रमाण पत्र …जाने क्या है पूरा मामला

रायपुर

लोक निर्माण विभाग (PWD) ने अपने एक ईई (एग्जीक्यूटिव इंजीनियर) को बर्खास्त कर दिया है। इंजीनियर को बर्खास्त करने के आदेश शुक्रवार को जारी कर दिए गए। आदेश के मुताबिक विभाग में पदस्थ इंजीनियर राकेश कुमार वर्मा की सेवाओं को अब खत्म कर दिया गया है। वर्मा के खिलाफ 12 साल पहले साल 2007-08 में शिकायत की गई थी। दस्तावेजों की जांच और कोर्ट में मामला पेंडिंग होने की वजह से उन पर कार्रवाई करने में वक्त लगा। राकेश कुमार वर्मा ने खुद को अनुसूचित जनजाति वर्ग से संबंधित बताया था। एक उच्च स्तरीय छानबीन समिति ने वर्मा के कास्ट सर्टिफिकेट की जांच की। पुराने रिकॉर्ड खंगाले गए। वर्मा के पूरे परिवार की हिस्ट्री को जांचा परखा गया। जांच समिति के अफसरों ने पाया कि अफसर ने जो जाति प्रमाण पत्र दिया था, उसे गलत ढंग से हासिल किया गया।अनुसूचित जनजाति वर्ग का न होते हुए भी सर्टिफिकेट में इसी वर्ग का उल्लेख किया गया। आरक्षण के नियमों के तहत विभाग में नौकरी भी हासिल की। सालों तक तमाम सुविधाएं लेते रहे। चूंकि जांच समिति ने जाति प्रमाण पत्र को ही फर्जी घोषित कर दिया, इसलिए इंजीनियर अब नौकरी से भी हाथ धो बैठे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.