छत्तीसगढ़

करंट की चपेट में आकर मॉर्निंग वॉक में निकली दो नाबालिग बच्चियों की मौत

राजनांदगांव

राजनांदगांव जिले के मोहारा पुलिस चौकी के वनांचल ग्राम घोटिया में करंट लगने से दो बालिकाओं की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम घोटिया निवासी पंचायत सचिव रोहित रजक की 17 वर्षीय पुत्री टिकेश्वरी रजक नवमी और ग्रामीण कृपाराम मंडावी की पुत्री आठवीं की छात्रा इलेश मंडावी 15 वर्ष दोनों मॉर्निंग वॉक पर रोजाना की तरह खेत की ओर गए थे। गांव के नारद छेदैया अपनी खेत में जंगली जानवरों का शिकार करने के लिए तार में करंट लगाकर जमीन में फैला दिया था। जमीन में फैले करंट लगे तार की चपेट में दोनों नाबालिग आ गए और दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी नारद छेदैया के खिलाफ धारा 304 आईपीसी के तहत गिरफ्तार कर लिया है। ये दोनों बच्चियां तथा इनके साथ अन्य बच्चियां भी प्रतिदिन दौड़ लगाती थीं। यह शौक जानलेवा साबित हो गया। गनीमत यह रही कि अन्य बच्चियां इनसे पीछे थीं। सबसे पहले आठवीं की छात्रा इलेश मंडावी तार में फंस कर गिरी और बेहोश हो गई। उसे बचाने गई टिकेश्वरी रजक नवमीं की छात्रा भी करंट की शिकार हो गई, तभी पीछे जो बच्चियां थी वे सहमकर रुक गई। उसी समय खेत में करंट लगाने वाले नारद छेदैया भी पहुंच गया। अपना तार इक_ा करने लगा। इसी बीच जानवर भी दिखाई दिया। ग्रामीणों ने बताया कि यहां इस तरह का कार्य खुलेआम चल रहा है। जिस पर वन अधिकारी परोक्ष रूप से संरक्षण देते हैं। पुलिस ने जानवर संबंधी जानकारी से तो इनकार किया है, किंतु ग्रामीणों ने उसकी फोटो भी खींची इस तरह की घटना से ग्राम में रोष भी व्याप्त है।

विधायक ने किया शोक व्यक्त

इस संबंध में ग्रामीण जिलाधीश से मिलकर शिकायत का मानस बना चुके हैं, पूरे गांव में शोक की लहर है। विधायक अनुसूचित जाति प्राधिकरण के अध्यक्ष भुनेश्वर बघेल ने ऐसी घटना के लिए शोक व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्माओं के प्रति शोक संवेदना प्रकट की है तथा इस संबंध पर शीघ्र कार्रवाई के संकेत भी दिए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.