छत्तीसगढ़

पुलिस के लिए थी बड़ी चुनौती, पुलिस ने ऐसे सुलझाई दो हत्याओं की गुत्थी…. पढ़े पूरी खबर….

बलरामपुर

जिले के शंकरगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत दो अलग-अलग जगहों पर हुए हत्या के दो मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है,हत्या के दोनों ही मामले में पुलिस ने तत्काल आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है..हत्या का पहला मामला शंकरगढ़ थाना क्षेत्र के कमारी गांव का था. जहां एक 45 वर्षीय महिला पतंगों बाई की पुलिस को खून से लथपथ संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी. मृतिका के सिर पर मिले चोट के निशान से पहले ही पुलिस को अंदाजा लग गया था कि यह हत्या है ..जब एसडीओपी रितेश चौधरी ने नेतृत्व में मामले में पुलिस ने विवेचना शुरू की तो पता चला कि उसके भतीजे अमरदीप ने ही पैसे की लालच में सिर पर टांगी से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया है. मामले में पुलिस ने तत्काल टीम का गठन किया और थाना प्रभारी अमित गुप्ता के नेतृत्व में आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. वही हत्या का दूसरा मामला डीपाडीह खुर्द गांव से सामने आया था जहां घर के बाहर बरामदे में सो रहे एक दिलीप टोप्पो नाम के बुजुर्ग की पुलिस को जली हुई लाश बरामद हुई थी.. आग किन कारणों से लगा और किसने मृतक को बेरहमी से जलाया पुलिस के लिए इसे सॉल्व करना एक बड़ी चुनौती थी. शंकरगढ़ पुलिस ने इस मामले में भी तत्काल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में आरोपी नाबालिग है जिसने मामूली विवाद के बाद आग लगाकर बुजुर्गों की हत्या कर दी थी. हत्या के इन दोनों मामलों में थाना प्रभारी अमित गुप्ता ,प्रधान आरक्षक छत्रपाल सिंह, आरक्षक शैलेंद्र तिवारी,प्रमोद टोप्पो,जगरनाथ पैकरा ,रामनरेश यादव, प्रवीण चौहान ,आशीष,अंकित चौहान,मनोज कुजूर सहित महिला आरक्षक व अन्य सक्रिय रहे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.