छत्तीसगढ़

हाथियों के हमले में किसान की मौत, 20 एकड़ धान और गन्ने की फसल को भी रौंदा

सूरजपुर : मंगलवार सुबह हाथियों ने वन क्षेत्र के गांवों में हाथियों ने धावा बोल दिया। गांवों में घुसे हाथियों ने 20 एकड़ धान और गन्ने की फसल चौपट कर दी। इस दौरान खेत में जा रहे एक ग्रामीण को भी कुचल कर मार दिया। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची है और हाथियों के दल की निगरानी कर रही है। बताया जा रहा है कि दल में 20 हाथी हैं, जो अभी भी गांवों में डेरा जमाए हुए हैं। जानकारी के मुताबिक, ग्राम करौटी के बी गांव में सुबह करीब 5 बजे हाथियों ने धावा बोल दिया। इस दौरान किसान रामनाथ पैकरा अपना खेत देखने के लिए बुधिया पारा की ओर गया था। तभी हाथियों का दल आ गया और उसने उसे घेर कर हमला कर दिया। ग्रामीणों की मदद से रामनाथ को भैयाथान अस्पताल ले जाया गया। जहां से हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर किया गया, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 20 हाथियों का दल चेंद्रा के कोंढा पुरुआ में गन्ने के खेत में रुका हुआ है। घटना की जानकारी मिलते ही पूर्व गृहमंत्री रामसेवक पैकरा और रेंजर सहित वन अमले के साथ जिला पंचायत सदस्य लवकेश पैकरा मौके पर पहुंच गए। उन्होंने परिजनों से बात की। वन विभाग की टीम हाथियों की निगरानी में जुटी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.