बिलासपुर

पटाखा कारोबारी ने मकान को बनाया गोदाम, पुलिस ने दबिश देकर बड़ी मात्रा में पटाखे जब्त किए

बिलासपुर

बिलासपुर में दिवाली पर्व के पहले ही पटाखों का अवैध कारोबार शुरू हो गया है। बिलासपुर के सरकंडा स्थित राजकिशोर नगर के रिहायशी मकान को एक व्यवसायी ने पटाखा गोदाम बना लिया था। पुलिस ने दबिश देकर व्यापारी को पकड़ लिया और बड़ी मात्रा में उसके घर से पटाखे जब्त किए। पुलिस को देर रात सूचना मिली कि राजकिशोर नगर व्यापारी ने रिहायशी इलाके में पटाखा गोदाम बनाया है। जहां पटाखों का अवैध भंडारण किया गया है। इस पर पुलिस ने एक मकान की जांच की। जहां बड़े पैमाने में पटाखे मिले। पुलिस पटाखों को जब्त कर राजकिशोर नगर तुलसी आवास निवासी व्यापारी 31 वर्षीय रिजवान मेमन को पकड़कर थाने ले गई। उसके खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। पटाखों की बिक्री व भंडारण करने के लिए एसडीएम से अनुमति लेना पड़ता है। दुकान या गोदाम की जगहों का निरीक्षण करने के बाद ही एसडीएम पटाखा दुकान के लिए अनुमति देते हैं। अनुमति के साथ पटाखों के भंडारण करने की क्षमता भी तय की जाती है, लेकिन, लाइसेंस की आड़ में व्यापारी क्षमता से अधिक पटाखों का भंडारण कर रख लेते हैं। शहर के बड़े पटाखा व्यापारी सदरबाजार, जूनीलाइन, गांधी चौक, जूना बिलासपुर, ज्वाली पुल सहित रिहायशी क्षेत्रों में दुकान संचालित कर रहे हैं। लाइसेंस की आड़ में पटाखों का गोदाम भी बना कर रखा हैं, लेकिन पुलिस अफसर व थानेदार ऐसे बड़े व्यापारियों तक पहुंच नहीं पा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.