बिलासपुर

स्टेशनरी की आड़ में परोस रहा था हुक्का….ढाई लाख का माल जब्त…पुलिस की बड़ी कार्रवाई

बिलासपुर 

स्टेशनरी व बेल्ट बेचने वाला व्यापारी हुक्के का सामान बेच रहा था। पुलिस ने दुकान में दबिश देकर बड़ी मात्रा में हुक्का फ्लेवर, पाट समेत ढाई लाख का सामान जब्त किया गया है। साथ ही आरोपी व्यापारी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला तारबाहर थाना क्षेत्र के विद्यानगर का है। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद पुलिस शहर में सक्रिय हो गई है। हुक्का बार को सख्ती से बंद कराया जा रहा है। इसके साथ ही अब हुक्के का सामान बेचने वालों पर भी नजर रखी जा रही है। SP दीपक झा ने बुधवार को ही पुलिस अफसर व थानेदारों को हुक्के के फ्लेवर व पाट बेचने वालों की जानकारी जुटा कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। दोपहर में तारबाहर TI जेपी गुप्ता को खबर मिली कि विद्यानगर में एक व्यापारी स्टेशनरी दुकान की आड़ में हुक्के का सामान बेच रहा है। इस पर उन्होंने टीम के साथ दुकान में दबिश दी।

तलाशी लेने पर टीम ने फ्लेवर, पाइप व पाट वगैरह जब्त किया और करबला में रहने वाले दुकान संचालक प्रदीप कुमार वाधवानी को पकड़ कर थाने ले आई। वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा हुक्का बार तथा अवैध बिक्री के संबंध में प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हुए हैं हैं। जिसके पालन में तारबाहर पुलिस थाना क्षेत्र में स्थित होटल , बार तथा संभावित स्थानों पर लगातार रेड कर कार्रवाई की जा रही है । अवैध रूप से संचालित हुक्का बार के विरूध्द तारबाहर पुलिस की यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी ।
थाना प्रभारी जेपी गुप्ता को स्टेशनरी दुकान में हुक्के का सामान बिकने की खबर मिली, तब उन्होंने पुष्टि करने के लिए एक पुलिसकर्मी को ग्राहक बनाकर दुकान भेजा। उसे एक हजार रुपए देकर हुक्के के फ्लेवर खरीदने कहा गया। सामान मिलने पर तत्काल सूचना देने के निर्देश भी दिए। ग्राहक बनकर पहुंचे पुलिसकर्मी से जैसे ही इशारा मिला टीम वहां पहुंच गई।
पुलिस ने आरोपी दुकान संचालक प्रदीप कुमार वाधवानी के खिलाफ कोटपा एक्ट के तहत कार्रवाई की है। उसके पास से दुकान में रखे 16 नग हुक्का पाट , 850 नग अलग-अलग फ्लेवर के पैकेट , 12 नग अलग – अलग फ्लेवर के बड़े डिब्बे , 7500 नग फील्टर , 200 नग हुक्का पाइप , 60 नग क्वाइल तथा अन्य सामग्री जिनकी अनुमानित कीमत करीबन 2 लाख 50 हजार रुपए बताई जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.