बिलासपुर

छत्तीसगढ़ : 17 आईपीएस अफसरों को पदोन्नति, सेंट्रल डेप्युटेशन वाले तीन को प्रोफार्मा प्रमोशन, 5 का पे-ग्रेड बढ़ाया

रायपुर

राज्य सरकार ने भारतीय पुलिस सेवा के 17 अधिकारियों को पदोन्नत किया है। पदोन्नति 13-14 साल की सेवा पूरी होने के बाद की गई है। केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर प्रदेश के बाहर तैनात तीन अफसरों को प्रोफार्मा पदोन्नति दी गई है। गृह विभाग की ओर से शनिवार को जारी आदेश से 2003 बैच के पांच IPS अधिकारियों को पुलिस महानिरीक्षक (IG) बनाया गया है। इनमें बस्तर रेंज के प्रभारी IG सुंदरराज पी, बिलासपुर के प्रभारी IG रतनलाल डांगी, दुर्ग के प्रभारी IG ओपी पॉल, पुलिस मुख्यालय में DIG एससी द्विवेदी और DIG आरपी साय शामिल हैं। प्रभारी IG की जिम्मेदारी संभाल रहे तीनों अफसर अब वहां IG के रूप में पदस्थ रहेंगे। केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर तैनात 2007 बैच के IPS अभिषेक शांडिल्य और रामगोपाल गर्ग को प्रोफार्मा प्रमोशन देकर उप पुलिस महानिरीक्षक (DIG) बना दिया है। केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गईं 2008 बैच की IPS नीथू कमल को भी प्रोफार्मा पदोन्नति दी गई है। इसका मतलब यह हुआ है कि केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटने पर उन्हें पद दिया जाएगा, लेकिन वेतन वृद्धि लागू हो जाएगी। गृह विभाग ने 2007 बैच के चार अफसरों को पदोन्नति देकर DIG बना दिया है। इसमें बस्तर SP जीतेंद्र सिंह मीणा, बिलासपुर SP दीपक कुमार झा, CAF की 19वीं बटालियन जगदलपुर के सेनानी डीके गर्ग और कांकेर के प्रभारी DIG बालाजी राव सोमावार का नाम शामिल हैं। 2008 बैच के पांच IPS अफसरों का वेतन ग्रेड बढ़ाया गया है। 13 साल की सर्विस पूरा करने पर ऐसा किया गया है। इसमें गरियाबंद SP पारुल माथुर, रायपुर SP प्रशांत कुमार अग्रवाल, पुलिस मुख्यालय में AIG मिलना कुर्रे, बीजापुर SP कमलोचन कश्यप, बिलासपुर स्थित CAF की 2सरी बटालियन के सेनानी केएल ध्रुव का नाम शामिल है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.