बिलासपुर

टेक्नीशियन अप्रेंटिस ट्रेनिंग की सीटो को बढ़ाने छात्रों ने दिया ज्ञापन।।

यदि मांग पूरी नही हुई तो छात्र करेंगे भूक हड़ताल।

एस. ई. सी. एल. बिलासपुर  का मामला है जंहा टेक्नीशियन अप्रेंटिस ट्रेनिंग के सीटो मे भारी कटौती हुई है।

सीट नही बढ़ी तो छात्र करेंगे भूक हड़ताल उग्र आंदोलन की भी दी चेतावनी।

बिलासपुर : टेक्नीशियन अप्रेंटिस ट्रेनिंग के सीटो को बढ़ाने के मांग को लेकर एस. ई. सी. एल. के उच्च अधिकारियों को ज्ञापन सौप गया। छात्रों ने ज्ञापन में लिखा है कि वे डिप्लोमा धारी माईनिंग स्टूडेंट होने की बात कही है और उन्होंने बताया कि लाखों रुपये देकर डिप्लोमा की शिक्षा प्राप्त किये हैं। उसके बाद भी बेरोजगारी छाया है। छात्रों ने अपने पीड़ा को एस. ई. सी. एल. के उच्च अधिकारियों को समझने का प्रयास किया है। और कहा है कि उन्हें PDPT ट्रेनिंग से वंचित न किया जाये उनके बहुमूल्य समय को व्यर्थ ना जाने दिया जाए उन छात्रों का कहना है कि पिछले डेढ़ साल से PDPT ट्रेनिंग का इन्तेजार कर रहे थे। वे छात्र अपने डिप्लोमा की शिक्षा वर्ष 2020 में पास कर लिये है। उन्होंने बताया कि एस. ई. सी. एल. द्वारा इस वर्ष टेक्नीशियन अप्रेंटिस ट्रेनिंग के सीटो मे भारी कटौती की गयी हैं। जिसे बढ़ाया जाना चाहिए तथा किसी भी तरह से माइनिंग के छात्रों के हित मे नही है। विगत वर्षो की सीटों की बात करे तो वर्ष 2018 में 1032 सीट और वर्ष 2019 में 1060 सीट अप्रेंटिस के लिए निर्धारित किया गया था। वही वर्ष
2020 में अप्रेंटिस के लिए कोई भी वेकेंसी नहीं आयी थी। जो कि 2021 मे 310 सीट ही निर्धारित किया गया जबकि माइनिंग विद्यार्थी 2020 व 2021 के विद्यार्थी की संख्या अधिक है। छात्रों ने एस. ई. सी. एल. के उच्च अधिकारियों को ज्ञापन सौप कर 1060 सीट फिर से निर्धारित कर के अप्रेंटिस ट्रेनिंग निकालने की मांग किये है। काफी बड़ी संख्या में वहां उपस्थित डीप्लोमा धारी छात्रों ने एस. ई. सी. एल. के उच्च अधिकारियों को चेतावनी देते हुए ज्ञापन सौप है कि यदि उनकी मांग 7 दिनों के भीतर पूरी नही की जाती है। तो छात्र उग्र आंदोलन एवं भूक हड़ताल जैसे कदम उठाने के लिए बाध्य होंगे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.