छत्तीसगढ़

बड़ी खबर : ‘टाई’ पर ‘टकराव’ पड़ा भारी, पूर्व सीएम के भांजे समेत 10 के खिलाफ FIR दर्ज

ख़ैरागढ़

मतगणना स्थल में तोड़फोड़ और शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में पुलिस ने देर रात भाजपा नेता विक्रांत सिंह और 10 अन्य के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर लिया है. थाने में इस दौरान 4 थानों के टीआई डटे रहे. पुलिस सीधे तौर पर इसकी जानकारी रात तक मीडिया को देने से भी बचती रही. आखिरकार जिला पंचायत के उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह, भाजपा नेता प्रफुल्ल ताम्रकार, कैलाश नागरे,अंकित अग्रवाल,अभिषेक सिंह, किशोर सिंह समेत 10 लोगों पर आईपीसी की धारा 186, 353,147, 294, 506, 427 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. बता दें कि जिला पंचायत उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह के भांजा हैं. मिली जानकारी के मुताबिक बीते 23 दिसंबर को खैरागढ़ नगर पालिका चुनाव के मतगणना के दौरान विक्रांत सिंह सहित भाजपा के कार्यकर्ताओं ने मतगणना में गड़बड़ी का आरोप लगाया था. मतगणना स्थल में घुसकर तोड़फोड़ किया था. दरअसल, खैरागढ़ नगर पालिका परिषद के 20 वार्डों में भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखी जा रही थी. चुनाव परिणाम आते गए और स्थिति भी स्पष्ट होती गई, जिसमें 20 में से 10 सीट भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में और 9 सीट कांग्रेस के पक्ष में चली गई. वहीं वार्ड नंबर 4 की एक सीट पर दोनों प्रत्याशी को मिले मतों में बराबरी होने के चलते फैसला आना बाकी रहा. खैरागढ़ नगर पालिका परिषद के वार्ड नंबर 4 में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही प्रत्याशी को 387 वोट ही मिले थे, जिसमें भाजपा और कांग्रेस के बीच टाई हो गया था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.