जांजगीर चांपा

जमीन विवाद: बड़े भाई पर दामाद के साथ मिलकर गैती से किया वार, सिर पर आए 50 टांके, मृत समझकर पहुंचे थाने

जांजगीर

अधेड़ ने अपने दामाद के साथ मिलकर बड़े भाई को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया। उसके सिर पर गैंती से कई वार किए और फिर मरा हुआ समझ कर थाने पहुंच सरेंडर कर दिया। परिजन आनन-फानन में उसे लेकर अस्पताल पहुंचे तो पता चला कि जिंदा है। बसंतपुर गांव निवासी गोपी यादव दोपहर में अपने दामाद लालू यादव के साथ बड़े भाई दुर्गेश यादव के घर में घुस आया। इसके बाद दोनों ने गैंती से दुर्गेश पर हमला कर दिया। दुर्गेश को इतनी बुरी तरह से पीटा कि वह लहूलुहान होकर गिर पड़ा। उसे मरा हुआ समझ कर गोपी और लालू वहां से भाग गए। इसके बाद थाने पहुंचे और सरेंडर कर दिया। पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक परिजन दुर्गेश को जिला अस्पताल ले जा चुके थे। उसके सिर पर 50 टांके आए हैं। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों भाइयों के बीच जमीन को लेकर विवाद है। मामला जांजगीर थाना क्षेत्र का है। दुर्गेश यादव ने पुलिस को बताया कि वह खेती किसानी का काम करता है। वह लोग 6 भाई हैं। एक की मौत हो चुकी है। वह दोपहर करीब 1 बजे घर के सामने ही खेत और बाड़ी में काम कर रहा था। तभी गोपी यादव और उसका दामाद लालू यादव ने जमीन विवाद को में उस पर हमला कर दिया। गोपी ने गैंती और लालू ने डंडे से उसके सिर पर वार किया। दोनों के जाने के बाद बेटी संध्या ने देखा तो परिजनों के साथ मिलकर अस्पताल लेकर आई। दुर्गेश यादव ने बताया कि पैत्रक जमीन का सभी भाइयों में बंटवारा हो गया है। सभी के हिस्से डेढ़-डेढ़ एकड़ जमीन आई है। आरेापी गोपी यादव को भी बराबर हिस्सा मिला है, लेकिन उसने अपने हिस्से की कुछ जमीन बेच दी थी। अब दुर्गेश यादव की जमीन जो कि उसके घर के ठीक सामने है उस पर भी अपना कुछ हिस्सा आने की बात कह कर अक्सर विवाद करता है। पिछले 6 महिने से इसी जमीन विवाद की वजह से अनबन चल रही थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.