बिलासपुर

तेंदूपत्ता तोड़ रहे ग्रामीणों पर भालू का हमला, १ की मौत, 2 ने भागकर बचा ली जान

लोरमी

जिले के अचानकमार टाइगर रिजर्व क्षेत्र में भालू के हमले से एक 45 वर्षीय बैगा आदिवासी युवक की दर्दनाक मौत हो गई है। मामला अचानकमार टाईगर रिजर्व कोटा बफर क्षेत्र के कक्ष क्रमांक 179 का है जहां तीन बैगा आदिवासी तेंदूपत्ता तोड़ने गए हुए थे। जहां पर अपने बच्चे के साथ घूम रहे भालू ने एक के ऊपर हमला कर दिया जिसमें 45 वर्षीय बैगा आदिवासी बुरी तरह से घायल हो गया और उनकी मौके पर मौत हो गई। वही दो अन्य बैगा आदिवासी भालू के हमले से अपनी जान बचाकर मौके से भाग निकले। सूचना के बाद वन विभाग के अधिकारी अचानकमार टाईगर रिजर्व क्षेत्र में पहुँचकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। वही ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक को पहले से ही वहां पर भालू का मूमेंट होने की जानकारी था जिससे ग्रामीणों को वहां तेंदूपत्ता तोड़ने जाने के लिए मना किया था और खुद मृतक वहां तेंदूपत्ता तोड़ने पंहुच गया। और तेंदूपत्ता तोड़ते वक्त भालू के हमले से उनकी मौत हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.