छत्तीसगढ़

सामूहिक दुष्कर्म :अपचारी सहित चार गिरफ्तार, दोस्त के साथ घूमने निकली पीड़िता के साथ किया था सामूहिक दुष्कर्म

अंबिकापुर

दोस्त के सामने युवती से सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप पर पुलिस ने थोर मुक्तिपारा निवासी भोला उर्फ संतोष यादव,अभिषेक यादव, नागेन्द्र यादव एवं एक अपचारी बालक को गिरफ्तार कर लिया है।पीड़िता घटना से पहले दोस्त के साथ साँड़बार मार्ग से सुखरी-सपना मार्ग पर एक पहाड़ीनुमा स्थल पर बैठी थी। चारों को रिमांड पर भेज दिया गया है।आरोपितों की धरपकड़ में एसपी भावना गुप्ता के साथ पुलिस अधिकारी-कर्मचारी लगे हुए थे।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि शनिवार दोपहर पीड़िता ने पुलिस को जानकारी दी थी कि शुक्रवार 20 मई की रात लगभग आठ बजे वह दोस्त के साथ थोर गांव के पास की पहाड़ी टेकरी के पास बैठी थी।उसी दौरान चार आरोपितों द्वारा मारपीट कर सामूहिक दुष्कर्म किया गया है सूचना पर पुलिस अधीक्षक भावना गुप्ता के द्वारा घटना पर त्वरित संज्ञान लेते हुए घटनास्थल पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला व नगर पुलिस अधीक्षक अखिलेश कौशिक,मणिपुर चौकी प्रभारी अनिता आयाम एवं जिले के विशेषज्ञ विवेचकों के साथ भेजा ताकि आरोपितों की पहचान सुनिश्चित कर तत्काल गिरफ्तार किया जा सके।
घटनास्थल पहुंचकर पीड़िता एवं उसके मित्र के द्वारा घटना समय एवं आरोपितो के बात करने के तरीके, उनकी भाव भंगिमा, कदकाठी, बाल इत्यादि को जब बताया गया उसके आधार पर पुलिस को सभी आरोपितों के घटनास्थल के आसपास के ही गांव का होना संभावित प्रतीत हुआ। इसके पश्चात पुलिस की अलग-अलग टीमों ने आस-पास के गांव में जाकर अलग- अलग व्यक्तियों से पूछताछ करना शुरू किया।पूछताछ के दौरान एक संदेही पुलिस को देखकर घबराने लगा जिसे पीड़िता के द्वारा देखकर घटना में संलिप्त होना बताया गया। पुलिस टीम ने तत्काल उसे हिरासत में लिया।घटना में शामिल अन्य आरोपितों के सबन्ध में भी उसने पुलिस को जानकारी दे दी।इसी जानकारी पर पुलिस ने सभी को पकड़ लिया।
मुख्य आरोपित थोर मुक्तिपारा निवासी भोला उर्फ संतोष यादव ने बताया कि घटना दिवस की शाम आठ बजे के करीब पीड़िता अपने मित्र के साथ पहाड़ीनुमा स्थल में दिखाई दी थी, जिस पर उसके द्वारा ग्राम के ही अपने अन्य तीन साथियों अभिषेक यादव, नागेन्द्र यादव एवं एक अपचारी बालक को साथ लेकर टेकरी पर गया और वहां से पीड़िता को जबरदस्ती साथ ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। इस बीच पीड़िता के मित्र को उसके अन्य साथी अलग रखे थे और मारपीट कर रहे थे। उसके पश्चात अन्य आरोपितों ने भी बारी- बारी से पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया। आरोपितों द्वारा पीड़िता के बैग में रखे कुछ रुपयो को भी लूट लिया गया था।
घटना पर मणिपुर चौकी मे धारा 376 घ, 376 (2)(ढ), 294, 506, 323, 394, 342 भादवी कायम कर विवेचना में लिया गया है।सभी आरोपितो को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।बता दें कि पीड़िता बलरामपुर जिले के राजपुर क्षेत्र की रहने वाली थी।शुक्रवार को दोस्त के साथ मोटरसाइकिल पर शहर में घूमने के बाद वे सांड़बार मार्ग पर ग्राम थोर के समीप पहाड़ीनुमा स्थल पर पहुंचे थे, उसी दौरान अपचारी सहित चार आरोपित मौके पर पहुंच गए थे और बारी-बारी से दुष्कर्म किया था।कार्रवाई में उपनिरीक्षक अनिता आयाम, सहायक उपनिरीक्षक भूपेश सिंह, अभिषेक पांडेय, विवेक पांडेय, प्रधान आरक्षक पन्ना लाल पन्ना, महेश्वर शरण सिंह, आरक्षक विकास सिंह, प्रविंद्र सिंह, अरविंद उपाध्याय, वीरेंद्र पैकरा, रमेश सक्रिय रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.