देश

गर्भपात के बाद रेप पीड़िता की मौत, भाजपा नेत्री का क्लीनिक सील

सागर

मध्य प्रदेश के सागर में एक भाजपा नेत्री की डिस्पेंसरी में एक आदिवासी नाबालिग रेप पीड़िता की गर्भपात के बाद तबीयत बिगड़ गई. इसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. जानकारी होने के बाद पुलिस ने भाजपा नेत्री की डिस्पेंसरी को सील कर दिया है. आरोपियों पर पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है. जानकारी के अनुसार, सागर जिले के बांदरी थाना क्षेत्र में रेप पीड़ित आदिवासी नाबालिग लड़की 8 माह की प्रेग्नेंट हो गई थी. जानकारी होते ही आरोपी की मां ने सागर के लाजपतपुरा स्थित एक भाजपा नेत्री प्रमिला मौर्य की क्लीनिक पर गर्भपात करा दिया. गर्भपात के दूसरे दिन उसकी तबीयत बिगड़ने पर सागर बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान 15 वर्षीय नाबालिग की माैत हाे गई. इस मामले का खुलासा मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद हुआ.मामला सामने आते ही खुरई एसडीओपी सुमित केरकेट्टा बांदरी पुलिस टीम के साथ सागर पहुंचे. पुलिस ने क्लीनिक को सील कर दिया. पुलिस ने रेप के आरोपी सोनू चढ़ार, उसकी मां गुड्डी बाई के खिलाफ पॉक्सो एक्ट, धारा 376 और भाजपा नेत्री प्रमिला मौर्य के खिलाफ धारा 314 (गर्भपात के बाद मौत) के तहत केस दर्ज कर लिया है. प्रमिला मौर्य भाजपा महिला मोर्चा हरिसिंह गौर मंडल की अध्यक्ष हैं. खुरई के एसडीओपी सुमित केरकेट्टा ने कहा कि बांदरी में 376 और 314 आईपीसी का केस दर्ज किया गया है. अभी तक की जांच में पाया गया है कि नाबालिग बच्ची के प्रेग्नेंट होने पर उसका अबॉर्शन या उसका मेडिकल ट्रीटमेंट कराया गया है. यहां एक डिस्पेंसरी चल रही थी, जिसको प्रमिला मौर्य चला रही थी. इस पूरे मामले की जांच की जा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.