जांजगीर चांपा

जांजगीर: दुष्कर्म का विचाराधीन कैदी जिला अस्पताल से फरार

जांजगीर

जांजगीर-चांपा में बुधवार देर रात एक विचाराधीन फरार हो गया। कैदी दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत विचाराधीन था। मामला सामने आने के बाद प्रहरी को निलंबित कर दिया गया है। बिलासपुर के देवरीखुर्द निवासी दुर्गा प्रसाद साहू (23) को जांजगीर की मुलमुला थाना पुलिस ने 24 मई को दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट में गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे कोर्ट ने जेल भेज दिया। यहां 7 जून को दुर्गा प्रसाद ने सीने में दर्द की शिकायत की, इस पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। यहां उसे जनरल वार्ड में रखा गया था। बुधवार रात करीब 12 बजे बंदी दुर्गा प्रसाद ने प्रहरी सोनू साहू को झांसा दिया। उसे सीने में दर्द की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आधी रात के बाद कैदी ने हथकड़ी चुभने का झांसा देकर प्रहरी से ढीली करवाई और फिर उसे पानी लेने भेज दिया। प्रहरी पानी लेने गया और इधर कैदी फरार हो गया। कैदी दुर्गा ने प्रहरी सोनू साहू से कहा कि उसे हथकड़ी चुभ रही है, थोड़ी ढीली कर दे। काफी अनुरोध पर प्रहरी ने हथकड़ी ढीली कर दी। इसके बाद दुर्गा प्रसाद ने प्रहरी सोनू साहू से दवाई खाने के लिए पानी लाने की गुजारिश की। प्रहरी पानी लाने गया, इसी बीच मौका देखकर बंदी दुर्गा प्रसाद हथकड़ी से हाथ बाहर निकाला और भाग निकला। बताया जा रहा है कि वहां भर्ती अन्य लोगों ने उसे मना भी किया, पर वह नहीं माना और फरार हो गया। बंदी के अस्पताल से भागते ही अफरा-तफरी मच गई। अस्पताल स्टाफ सहित अन्य लोग उसे आसपास ढूंढते रहे, पर उसका पता नहीं चला। अंधेरा का फायदा उठाकर वह भाग चुका था। देर रात उसकी रेलवे स्टेशन सहित आस-पास भी तलाश की गई है। इसके बाद जांजगीर थाने में बंदी के फरार होने की सूचना दी गई। जेलर डीडी टोंडर ने बताया कि फरार बंदी की सभी जगह तलाश जारी है। जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.