छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: दूल्हा एक, दुल्हन दो- दोनों की गोद में बच्चा : दोनों युवतियों और समाज की रजामंदी के बीच धूमधाम से हुई शादी

​​​​​​​कोंडागांव

आपने अजीबोगरीब जोड़ियों के बीच शादी जैसे अनूठे किस्से तो कई पढ़े होंगे… लेकिन एक दूल्हा और दो दुल्हन… दोनों की गोद में अपने-अपने बच्चे… ऐसी शादी संभवत: पने इससे पहले कभी नहीं सुनी होगी। ऐसा हुआ है छत्तीसगढ़ के कोंडागांव जिले में। दरअसल एक युवक ने अपनी दो प्रेमिकाओं के साथ एक ही मंडप में शादी रचाई। सबसे खास बात इस शादी में यह थी कि दूल्हा दो बच्चों का पिता है। दोनों प्रेमिकाओं से उसे एक-एक बेटी भी है। शादी रचाने के लिए दोनों दुल्हनें अपनी बेटियों को लेकर मंडप में पहुंचीं थीं। शादी के बाद दूल्हे ने दोनो दुल्हनों का साथ जीवनभर निभाने की बात कही। केशकाल जिले के ईरागांव क्षेत्र के ग्राम उमला में यह अनूठी शादी संपन्न हुई। गांव के रजन सिंह सलाम से आडेंगा निवासी दुर्गेश्वरी मरकाम के परिवार वालों ने पहले शादी का प्रस्ताव रखा था। दोनों की समाज के बीच सगाई भी करा दी गई और दुर्गेश्वरी रहने के लिए रजन सिंह के घर आ गई। कुछ माह बाद उसने एक बेटी को जन्म दिया। इस बीच रजन सिंह को आंवरी गांव की सन्नो बाई गोटा से भी प्रेम हो गया। रजनसिंह और सन्नों का प्रेम इतनी तेजी से परवान चढ़ा कि वह भी गर्भवती हो गई। उसने भी एक बेटी को जन्म दिया। इसका पता जब लोगों को चला तो बातें शुरू हो गईं। इस पर रजन सिंह ने परिवार से बात की। समाज की बैठक हुई और दोनों युवतियों ने रजन सिंह के साथ शादी की हामी भर दी। दोनों को ऐतराज नहीं था। फिर समाज की रजामंदी से रजन सिंह ने दोनों युवतियों से शादी का फैसला ले लिया। विवाह समारोह के लिए समाज और परिवार की रजामंदी के बाद शादी कार्ड छपवाए गए। उसमें दूल्हे के रूप में रजन सिंह और दुल्हन के खाने में दोनों ही युवतियों का नाम लिखवाया गया। इसके बाद 8 मई को लगन और टिकावन रखा गया। इस शादी समारोह में आस पास के 500 से 600 ग्रामीणशामिल हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.