देश

पत्नी ने पति को जिंदा बहाया, फिर 22 महीने तक प्रेमी की कराती रही सास से बात, जानें कैसे ननद ने पकड़ा झूठ

मुरैना : मध्य प्रदेश के मुरैना से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. पत्नी ने पति को रास्ते से हटाने बिल्कुल फिल्मी प्लान बनाया और पूरे परिवार को महीनों चखमा देती रही. मगर उसकी एक गलती ने उसकी पोल खोल दी. दरअसल पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर बेरहमी से पति की हत्या कर दी. उसने हत्या का ऐसा तरीका खोजा कि किसी को शक न हो. महिला ने पहले पति को नींद की गोलियां खिलाकर बेहोश किया. फिर उसके कपड़े उतारे और उसे जिंदा बहा दिया. इसके बाद पुलिस ने एक शव बरामद किया. लावारिस मानकर पुलिस ने उसे दफन भी कर दिया.

इसके बाद पत्नी ने शातिर प्लान बनाया. वह 22 महीने तक सास की बात अपने प्रेमी से कराती रही और उसे अपने पति बताया. उसने अपनी सास को यह बता दिया कि उनका बेटा कहीं दूर काम करने गया है. लेकिन पत्नी की एक गलती से उसका राज खुल गया.दरअसल, आरोपी महिला ने अपने ननद को अपने प्रेमी से उसका भाई बताकर बात कराई. मगर ननद पहचान गई कि यह आवाज उसके भाई की नहीं है. उसके बाद ननद अपनी मां को लेकर सीधे पुलिस स्टेशन पहुंची. फिर उसने अपने भाई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. पुलिस ने जांच की तो पत्नी और उसके प्रेमी की करतूत सामने आ गई.

पत्नी ने बनाया पति के हत्या का प्लान
पूरी घटना सिंहौनियां क्षेत्र के छत्त का पुरा गांव का है. गांव में विश्वनाथ नाम का युवक अपनी बुजुर्ग मां और पत्नी के साथ रहता था. उसकी बहन भी पास के गांव में रहती थी. इस दौरान विश्वनाथ की पत्नी का प्रेम प्रसंग उनके खेत में काम करने वाले युवक से शुरू हो गया. विश्वनाथ की मां को दिखाई सुनाई नहीं देता था. इसका फायदा उठाते हुए महिला अक्सर अपने प्रेमी को मिलने बुला लिया करती थी. जब दोनों को लगा कि विश्वनाथ के रहते दोनों एक नहीं हो सकते, उन्हें उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया.

पत्नी को पति ने जिंदा बहा दिया

23 नवंबर 2020 को पत्नी पति को सामान खरीदने के बहाने से लेकर गई. फिर उसे नींद की गोलियां खिलाकर बेहोश कर दिया. फिर उसके कपड़े उतारे और उसे जिंदा नहर में बहा दिया. फिर अगने दिन जब सास अपने बेटे के बारे में पूछने लगी उसे बताया कि वह काम के सिलसिले में गुजरात चला गया है. पति की हत्या करने के बाद पत्नी ने ससुराल छोड़ दिया. फिर मुरैना में अपने प्रेमी के साथ रहने लगी. जब वह गांव जाती तो बुजुर्ग सास अपने बेटे के बारे में पूछती तो वह अपने प्रेमी से उसकी बात कर दिया करती थी. वह विश्वनाथ का सिम अपने फोन पर डाल कर सास की बात कराया करती थी.

पुलिस ने ऐसे किया खुलासा

विश्वनाथ की बहन ने अपनी भाभी से भाई का नंबर मांगा. इसके बाद बहन ने जब बात कि तो उसे शक हुआ कि आवाज उसके भाई की नहीं है. इसके बाद ननद से भाई के गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई. ननद की शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. साइबर सेल की जांच में पता चला कि मोबाइल के आईएमईआई नंबर से देखा तो अरविंद और विश्वनाथ दोनों की सिम एक ही मोबाइल से चलाई जा रही थी. इसके बाद पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया. कड़ाई से पूछताछ में दोनों ने सारे राज खोल दिए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.