छत्तीसगढ़

अवैध प्रेम संबंधों में पत्नी ने पति को उतारा मौत के घाट, आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोरिया

जिले में एक पत्नी ने अपने ही सुहाग की जान ले ली। पूरा मामला अवैध प्रेम संबंधों का है। डीएसपी कविता ठाकुर ने बताया कि 12 जुलाई को सोनहत में भुनेश्वर प्रसाद राजवाड़े (36 साल) की लाश फांसी से लटकती हुई मिली थी। दोपहर करीब 2 बजे घटना हुई थी। परिवार वालों ने इसकी खबर पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची। शुक्रवार को आरोपी पत्नी और प्रेमी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों ने कत्ल को खुदकुशी का रूप देने की बहुत कोशिश की, लेकिन आखिरकार पकड़े ही गए। पूरी घटना बडवार थाना इलाके के सोनहत की है। उस वक्त सभी इसे आत्महत्या मानकर चल रहे थे। सोनहत पुलिस ने शव को फांसी के फंदे से उतारकर पंचनामा कार्रवाई कर पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया।

परिवार भी इस घटना को आत्महत्या मानकर ही चल रहा था, लेकिन इसमें तब नया मोड़ आ गया, जब पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट में गला घोंटकर मारने और इसके बाद फांसी पर टांगने की बात सामने आई। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और अज्ञात आरोपी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। पुलिस अधीक्षक त्रिलोक बंसल और उप पुलिस अधीक्षक कविता ठाकुर के निर्देश पर जांच के लिए टीम बनाई गई।

पत्नी ही निकली मुख्य आरोपी

सबसे पहला शक पुलिस का मृतक भुनेश्वर की पत्नी प्रेमवती पर गया। उसके मोबाइल की कॉल डिटेल को खंगाला गया, जिसमें सबसे ज्यादा बात अरुण कुमार राजवाड़े उर्फ पप्पू नाम के शख्स से की गई थी। पुलिस दोनों की कुंडली खंगालने में जुट गई। दोनों के बीच लंबी-लंबी बातचीत हुई थी, जिससे पुलिस का शक इन पर गहरा गया। पुलिस को अरुण के मोबाइल का लोकेशन रायपुर दिखा। तुरंत पुलिस ने उसे वहां से हिरासत में लिया और कोरिया ले आई।

दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी

प्रेमवती को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इसके बाद दोनों से पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की, तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया। प्रेमवती और अरुण ने बताया कि पिछले काफी समय से दोनों का प्रेम संबंध है। आरोपी पत्नी ने कहा कि वो अपनी पति की गलत आदतों से परेशान थी और किसी भी तरह उससे छुटकारा पाना चाहती थी। इसलिए अपने प्रेमी अरुण के साथ मिलकर उसने हत्या का प्लान बनाया। दोनों ने 12 जुलाई को तड़के 4 बजे भुनेश्वर की मुंह और नाक दबाकर हत्या कर दी और उसे खुदकुशी दिखाने के लिए फांसी पर लटका दिया। इसके बाद आरोपी अरुण रायपुर चला गया। दोनों मोबाइल से लगातार बात करते थे। जिसकी वजह से वे पकड़े गए।

पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल गमछे को बरामद कर लिया है। जांच के दौरान घटनास्थल से एक प्लास्टिक की कुर्सी भी जब्त की गई थी। दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज गिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.