छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: शिक्षकों की विधवाएं जब सड़क पर कफन ओढ़ लेट गई और कहने लगी….पढ़े पूरी खबर…..

रायपुर

राजधानी रायपुर में शनिवार को कफन ओढ़ कर महिलाएं सड़क पर लेट कर रोते हुए सरकार से अपनी बदहाली दूर करने की मांग करती रहीं। रायपुर के बूढ़ा पारा स्थित धरना स्थल की सड़क से जुड़ा हुआ है। यहां पिछले कई दिनों से पंचायत स्तर के शिक्षकों की विधवाएं धरना दे रहीं हैं। ये चाहती हैं कि पति की मौत के बाद इन्हें अनुकंपा नियुक्ति मिले, मगर सरकार कई तरह के नियमों का हवाला देकर इनकी मांगों को मानने के लिए राजी नहीं है।

ऐसे में यह महिलाएं शनिवार को इस तरह के विरोध प्रदर्शन के लिए मजबूर हुईं। दिवंगत पंचायत शिक्षक अनुकंपा संघ से जुड़ी माधुरी मृगे ने बताया कि हम पिछले लगभग एक महीने से रायपुर के धरना स्थल पर बैठकर सरकार को अपनी मांगों से अवगत करा रहे हैं। कई बार मुख्यमंत्री निवास जाने की कोशिश की, मगर रास्ते में ही पुलिस हमें रोक कर हमारे साथ बदसलूकी करती है।

प्रदर्शन में शामिल सभी महिलाओं के पति प्रदेश की अलग-अलग पंचायतों में बतौर शिक्षक स्कूलों में पढ़ाने का काम करते थे। किसी की बीमारी तो किसी की हादसे में मौत हुई। मगर परिवार के किसी एक सदस्य को अनुकंपा नियुक्ति नहीं मिली। पिछले दो तीन सालों से विभागों के चक्कर काट रही ये महिलाएं अब आंदोलन कर रही हैं।

Related Articles