छत्तीसगढ़

शहीद कमांडेंट विप्लव त्रिपाठी को अंतिम विदाई देने उमड़ा शहर, सांसद, मंत्री, विधायक भी पहुंचे

छत्तीसगढ़

रायगढ़ के रहने वाले वरिष्ठ पत्रकार सुभाष त्रिपाठी के बड़े बेटे कमांडेंट विप्लव त्रिपाठी (41) सहित 5 जवान 13 नवंबर को मणिपुर में हुए उग्रवादी हमले में शहीद हो गए थे। । तीनों के पार्थिव देह भारतीय वायु सेना के विशेष विमान से रायगढ़ लाए गए। जहाँ सर्किट हाउस स्थित मुक्ति धाम में उनका अंतिम संस्कार होगा। कमांडेंट की शहादत के सम्मान में शहर पूरी तरह से बंद है। श्रद्धांजलि देने के लिए जनप्रतिनिधियों, अफसरों समेत बड़ी संख्या में लोग पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने शहीद को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी की पत्नी अनुजा शुक्ला (37) और बेटे अवीर त्रिपाठी (6) की भी इस हमले में मौत हो गई थी। वह परिवार सहित आ रहे थे, इसी दौरान घात लगाए उग्रवादियों ने IED ब्लास्ट कर उनकी गाड़ी को उड़ा दिया था सांसद रायगढ़ गोमती साय, विधायक रायगढ़ प्रकाश नायक, विधायक लैलूंगा चक्रधर सिदार, जिला पंचायत अध्यक्ष निराकार पटेल, कलेक्टर भीम सिंह, पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा रायगढ़ शहर के हजारों लोगों ने एयरपोर्ट पर शहीद को श्रद्धांजलि दी।

Related Articles