बिलासपुर

मेडिकल स्टोर संचालक के बेटे को किया अगवा, पुलिस ने नाकाबंदी की तो 36 मॉल के पास छोड़कर भागे, एक आरोपी चढ़ा हत्थे

बिलासपुर

कार सवार कुछ लोगों ने एक छात्र को अगवा कर लिया। सूचना मिलने पर पुलिस ने नाकाबंदी की तो अपहरणकर्ता छात्र को 36 मॉल के पास छोड़कर भाग निकले। छात्र से पूछताछ के बाद पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि वॉट्सऐप ग्रुप पर चैटिंग के दौरान विवाद हुआ था। इसके बाद से छात्र को धमकी मिल रही थी। मामला सिविल लाइंस थाना क्षेत्र का है। जूना निवासी छात्र 11वीं क्लास में पढ़ता है। उसके पिता स्वास्तिक मेडिकल स्टोर संचालक हैं। रोज की तरह छात्र गुरुवार सुबह भी जिम गया था। जिम से बाहर निकलते ही बिना नंबर की सफेद रंग की कार से पहुंचे कुछ लोगों ने चाकू दिखाकर उसे अगवा कर लिया। इस दौरान अपहरणकर्ताओं के कुछ साथी बाइक और स्कूटी से भी थे। जिम के बाहर खड़े लोगों ने छात्र को अगवा करते देखा तो डायल-112 पर सूचना दे दी।

सूचना मिलने पर पुलिस ने शहर में नाकाबंदी कर दी। खुद को घिरा देख बदमाशों ने छात्र को एक घंटे बाद 36 मॉल के पास छोड़ दिया। इसके बाद छात्र ने पुलिस से संपर्क किया तो वे उसे लेकर सिविल लाइंस थाने पहुंचे। छात्र के परिजनों को भी इसकी सूचना दे दी गई। ASP उमेश कश्यप ने बताया कि छात्र को अगवा किए जाने की सूचना मिली थी। एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है। अभी उससे पूछताछ की जा रही है।

 छात्र और उसके एक अन्य साथी की घुरू अमेरी क्षेत्र में रहने वाले कुछ युवकों से दोस्ती है। वॉट्सऐप ग्रुप पर चैटिंग के दौरान आरोपियों से छात्र का विवाद हो गया। इसके चलते पिछले करीब 2-3 दिनों से छात्र को मोबाइल पर धमकी मिल रही थी। पुलिस यह भी पता लगाने का प्रयास कर रही है कि घटना में शामिल सभी आरोपी नाबालिग हैं या बालिग। अभी जिस आरोपी को हिरासत में लिया गया है, उसके नाबालिग होने की बात पता चल रही है।

Related Articles