जांजगीर चांपा

जिले के पांच रेल्वे स्टेशनों में 24 घंटे कोविड जांच टीम की कलेक्टर ने लगाई ड्यूटी…डिप्टी कलेक्टर श्री गर्ग नोडल अधिकारी नियुक्त

रेल यात्रा के लिए कोविड जांच रिपोर्ट जरूरी,

जांजगीर-चांपा

कलेक्टर श्री जितेंद्र कुमार शुक्ला के मार्ग निर्देशन में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले के पांच रेलवे स्टेशनों क्रमशः-अकलतरा, जांजगीर-नैला, चांपा, नया बाराद्वार और सक्ती में यात्रियों की कोविड जांच के लिए तीन पालियों में 24 घंटे ड्यूटी लगाई गई है। इस कार्य को व्यवस्थित रूप से संपादित करने डिप्टी कलेक्टर श्री सुमित गर्ग को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

जारी आदेश के अनुसार ड्यूटी में तैनात किये गए अधिकारी / कर्मचारी नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर श्री सुमित गर्ग के मार्गदर्शन में कार्य करेंगे।

कोविड 19 संक्रमण के रोकथाम की दृष्टि से रेलमार्ग से बाहर से आने वाले यात्रियों को पिछले अधिकतम 96 घंटे के भीतर आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य रूप से दिखाना होगा। जिन यात्रियों के पास पिछले 96 घंटे के भीतर की आरटी-पीसी आर निगेटिव रिपोर्ट है, उन्हें घर जाने की अनुमति दी जायेगी और जिन यात्रियों के पास निगेटिव रिपोर्ट नहीं होगी, उनका कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। जिन यात्रियों की कोरोना टेस्ट निगेटिव आएगी उन्हें घर जाने की अनुमति दी जायेगी। टेस्ट पॉजिटिव आने पर,उन्हें गत वर्ष की स्थापित प्रक्रिया की भांति स्थानीय क्वारेटाईन सेंटर होम आइसोलेशन,कोविड केयर सेंटर भेजा जाएगा। इसके लिए परिवहन आदि की व्यवस्था की गई है। कर्मचारियों को हिदायत दी गई है कि वे मास्क लगाकर सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए डियूटी करें। रेलवे स्टेशन में ड्यूटी करने वाले स्वास्थ्य, पुलिस विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों से कहा गया है कि वे रेलवे के कार्यरत अधिकारी कर्मचारियों से समन्वय बनाकर अपने दायित्वों का निर्वहन करें।

Related Articles