छत्तीसगढ़

स्टोर रूम की चाबी को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में आपस में ही भिड़ गईं नर्स, नर्स बोलीं- वैक्सीन का पता नहीं, PHC प्रभारी से हुई शिकायत

लोग घंटों करते रहे वैक्सीनेशन का इंतजार,120 में से 60 को नहीं लग पाया टीका

बेमेतरा

वैक्सीन लगाने वाली 2 नर्स स्टोर रूम की चाबी को लेकर आपस में भिड़ गई। दोनों चाबी एक-दूसरे के पास होने की बात कहकर विवाद करती रहीं। इस वजह से लोगों को वैक्सीन लगवाने घंटों इंतजार करना पड़ा है। दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि एक नर्स ने तो वैक्सीन से भरे डिब्बे को ही जमीन पर फेंक दिया। हंगामे के कारण वैक्सीनेशन देर से शुरू हुआ और टीका लगवाने पहुंचे 120 लोगों में से 60 को बिना टीकाकरण के वापस लौटना पड़ा।

मामला नवागढ़ ब्लॉक के सबसे बड़े ग्राम पंचायत टेमरी के शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का है। अब पूरे हंगामे का वीडियो भी वायरल है।यहां सोमवार को सुबह 9 बजे से ही लोग कोरोना का टीका लगवाने पहुंच गए थे। लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी वैक्सीनेशन शुरू नहीं हुआ। जिसके बाद एक शख्स ने नर्स से पूछ लिया कि आखिर वैक्सीन क्यों नहीं लग रही है। इस पर वहां मौजूद नर्स दिलेश्वरी जोशी ने कहा कि स्टोर रूम की चाभी उसके पास नहीं है। वहींं वैक्सीन कहां है यह भी उसे नहीं पता है।

यह सब सुनकर शख्स ने PHC प्रभारी डॉ. प्रकाश निर्मम से शिकायत कर दी। इस पर प्रभारी ने तुरंत ही दूसरी नर्स हेमलता गायकवाड़ को स्वास्थ्य केन्द्र बुलाया। जैसे ही हेमलता अस्पताल पहुंची वैसे ही वहां मौजूद दिलेश्वरी जोशी से उसकी बहस शुरू हो गई। दोनों के बीच चाभी को लेकर जमकर कहासुनी हुई। बहस इतनी बढ़ गई कि हेमलता ने वैक्सीन से भरे डिब्बे को ही जमीन पर फेंक दिया। हालांकि, वैक्सीन को कुछ नहीं हुआ है। यह सब घंटों चलते रहा, आखिरकार मामला 2 बजे शांत हुआ। इसके लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। जिसमें महज 60 लोगों का ही टीकाकरण हो सका है।

इस पूरे मामले की शिकायत भी उच्च अधिकारियों से की गई है। नवागढ BMO ने इस मामले को लेकर कहा है कि टेमरी स्वास्थ्य केन्द्र में हुए हंगामा और वैक्सीन को जमीन में फेंकने संबंधी सूचना मिली है। टेमरी जाकर मामले की पूरी जानकारी लूंगा।

Related Articles