छत्तीसगढ़

1 करोड़ 70 लाख रुपये का गांजा जब्त: सब्जी के नीचे छिपाकर की जा रही थी गांजे की तस्करी, 4 आरोपी गिरफ्तार

8 क्विंटल गांजा के साथ 4 तस्कर गिरफ्तार, कार और पिकअप जब्त

महासमुंद

जिले में पुलिस ने अंतरराज्यीय गांजा तस्करी का भंडाफोड़ किया है। सब्जियों की बोरियों में भरकर गांजे की तस्करी करते 4 आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। उनके पास से 8 क्विंटल गांजा जब्त किया गया है। जिसकी कीमत करीब 1 करोड़ 70 लाख रुपए आंकी गई है। गांजा ओडिशा से नागपुर ले जाया जा रहा था। यह कार्रवाई कोमाखान पुलिस ने की है।

मिली जानकारी के मुताबिक ओडिशा पासिंग की कार और महाराष्ट्र पासिंग की पिकअप में गांजा भरकर ले जाया जा रहा था। शातिर तस्करों ने गोभी और आलू की सब्जियों की बोरियों में गांजा भर रखा था। पुलिस ने मुखबिर से सूचना मिलने के बाद रास्ते में चेकिंग शुरू कर दी। नेशनल हाइवे 353 में टेमरी नाका के पास पिकअप वाहन और हुंडई वर्ना कार को रोका गया। जिसकी तलाशी लेने पर अंदर गांजा मिला।

पुलिस दोनों वाहनों से 8 क्विंटल गांजा बरामद किया है। जिसकी कीमत करीब 1 करोड़ 70 लाख रुपए आंकी गई है। गांजा ओडिशा से नागपुर ले जाया जा रहा था। गांजा तस्करी करते 4 आरोपी को भी गिरफ्तार किया गया है। जिसमें संजय सामल, चिन्मय साहनी, जी शंकर और निलेश बैरागी शामिल है। कोमाखान पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की है।

Related Articles