Advertisement
देश

AC में शॉर्ट सर्किट होने से महिला अस्पताल में लगी आग, फायरमैन ने कांच तोड़कर बचाई प्रसूता और बच्चों की जान

जयपुर

राजस्थान के जयपुर में शनिवार सुबह महिला अस्पताल में आग लग गई. सूचना पर पहुंचे दमकलकर्मियों ने अस्पताल के कांच तोड़कर वार्ड में प्रवेश किया. कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. हालांकि, इस दौरान कई गर्भवती महिलाएं और बच्चे वार्ड में फंस गए, जिन्हें समय रहते दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया.

जानकारी के मुताबिक, शनिवार सुबह करीब 4.30 बजे सांगानेरी गेट स्थित महिला अस्पताल की पहली मंजिल पर बायोमेट्रिक लैब में लगे एसी में शॉर्ट सर्किट हो गया. आग लगने के बाद धुआं दूसरी और तीसरी मंजिल तक फैल गया. जिस मंजिल पर आग लगी थी, उसी मंजिल पर करीब 50 महिलाएं और बच्चे भर्ती थे, लेकिन बाद में उन्हें ग्राउंड फ्लोर पर शिफ्ट कर दिया गया.

अग्निशमन अधिकारी ने कही ये बात

आमेर जॉन के सहायक अग्निशमन अधिकारी घनश्याम मल्होत्रा ​​ने बताया कि उन्हें सुबह करीब 4.42 बजे आग लगने की सूचना मिली. इसके बाद दमकल की 2 गाड़ियां तुरंत मौके पर पहुंची और करीब ढाई घंटे की मशक्कत के बाद सुबह 7 बजे आग पर काबू पा लिया गया. हालांकि, जब तक आग बुझाई जाती, तब तक लैब की मशीनें, जांच उपकरण और कई कागजात जलकर राख हो चुके थे.

‘महिलाओं और बच्चों को दूसरे वार्ड में किया गया शिफ्ट’

लैब में बड़ी संख्या में गर्भवती के सैंपल थे, जिनमें आग लग गई. इसके साथ ही लैब में रखे कंप्यूटर, फ्रिज और कई अन्य सामान भी जलकर राख हो गए. उससे पहले ही दमकलकर्मियों ने अस्पताल स्टाफ के साथ मिलकर सभी महिलाओं और बच्चों को दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिया. हालांकि, इस दौरान कोई जनहानि नहीं हुई, लेकिन बड़ा हादसा टल गया.

Related Articles

Leave a Reply