छत्तीसगढ़

ED जल्द दर्ज करेगी FIR…निलंबित ADG जीपी सिंह के खिलाफ जांच में उजागर हो सकता बड़ा फर्जीवाड़ा

रायपुर

विभागीय अधिकारियों ने दिल्ली स्थित ED मुख्यालय को पत्र लिखकर बेनामी संपत्ति और मनीलाड्रिंग से संबंधित मामले की जाच करने की अनुमति मांगी गई है। साथ ही बताया गया है कि ईओडब्ल्यू को जीपी सिंह के शासकीय आवास और उनके करीबी लोगों के घरों से आपत्तिजनक दस्तावेज मिले हैं। इसकी जांच किए जाने पर बड़ा फर्जीवाड़ा उजागर हो सकता है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) जल्दी ही निलंबित एडीजी जीपी सिंह के खिलाफ FIR दर्ज करेगी। राज्य आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो (EOW) से दस्तावेज मिलने के बाद इसकी तैयारी की जा रही है। बताया जाता है कि 15 जुलाई को ईओडब्ल्यू द्वारा करीब 80 पन्नों के दस्तावेज, इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य और कुछ अन्य जानकारियां भेजी गई हैं। बताया जा रहा है कि ईडी इन दस्तावेजों का अध्ययन करने के साथ ही गोपनीय रूप से साक्ष्य जुटा रही है।

इसे भी पढ़े- केंद्र सरकार का ऐतिहासिक फैसला: मेडिकल कोर्सेस में OBC कैंडिडेट्स को 27% और आर्थिक रूप से पिछड़े कैंडिडेट्स को 10% आरक्षण मिलेगा

जीपी सिंह और उनके करीबी लोगों के घरों से बरामद दस्तावेजों का ईडी की टीम परीक्षण करने में जुटी हुई है। इसमेें जितने भी लोगों के नाम मिले है उन सभी को पूछताछ के लिए तलब किया जाएगा। बताया जाता है कि जमीन की खरीदी-बिक्री में भूमिका निभाने वालों और रजिस्ट्री में हस्ताक्षर करने वाले गवाहों को भी बुलवाया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि जांच के दौरान बहुत से बेनामी संपत्तियों की दस्तावेज और विभिन्न कंपनियों और रियल इस्टेट में निवेश की जानकारी भी सामने आऐगी। ईडी के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि प्राथमिक जांच में मनीलाड्रिंग के जरिए रकम की हेराफेरी करने की जानकारी मिली है।

इसे भी पढ़े- महिला के पेट के अंदर मिला सात माह का दुर्लभ स्टोन बेबी, मेडिकल कॉलेज में रखा गया सुरक्षित

अवैध रूप से अर्जित की गई ब्लैकमनी का हस्तांतरण कुछ करीबी लोगों के जरिए किए जाने की आशंका है। जांच के दौरान सभी से पूछताछ करने पर सनसनीखेज इनपुट सामने आऐगा। इसके प्रमाण मिलते ही बेनामी संपत्तियों की जब्ती होगी। राजद्रोह केस में निलंबित चल रहे एडीजी जीपी सिंह को कोतवाली पुलिस ने बुधवार की शाम नोटिस जारी किया है।

इसे भी पढ़े- नशे में धुत लड़की सड़क किनारे गिरी हुई मिली, पुलिस ने पहुंचाया अस्पताल, CCTV कैमरों की जांच कर रही पुलिस  

Related Articles