बिलासपुर

विधानसभा में उठा सवाल…….3 थानेदार सहित 16 कांस्टेबल लाइन अटैच….

बिलासपुर

दागी पुलिसकर्मियों को लेकर विधानसभा में सवाल उठने के बाद बिलासपुर एसपी ने 16 पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच कर दिया है। लाइन अटैच किए गए अधिकतर पुलिस कर्मी वह है जिनके खिलाफ एफआईआर दर्ज है या फिर विभागीय जांच चल रही है। एसपी की इस कार्रवाई के बाद विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

विधायक पांडे ने विधानसभा में उठाया था मुद्दा
दरअसल, रेंज आईजी ने दागी पुलिसकर्मियों (Line Attached) को थाने में पदस्थापना नहीं देने के निर्देश दिए हुए है। इस बीच विधानसभा में विधायक शैलेश पांडे ने भी एफआईआर के बाद भी थानों में जमे पुलिसकर्मियों को लेकर सवाल उठाया था। पांडे ने कहा था कि, दागी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई तो दूर उन्हें थानों में पोस्टिंग दे दी गई है।

विधानसभा में उठा सवाल.......3 थानेदार सहित 16 कांस्टेबल लाइन अटैच…. Pradakshina Consulting PVT LTD

 

गृहमंत्री बोले- 22 पर हैं आपराधिक मामले
विधायक के सवाल पर गृहमंत्री ने जवाब दिया कि- 22 पुलिस कर्मी ऐसे हैं, जिन पर आपराधिक (Line Attached) मामले दर्ज हैं। आपको बता दें कि, विधानसभा में मुद्दा गरमाने के बाद अब एसपी दीपक झा ने एक एसआई, दो एएसआई, एक हवलदार सहित 16 पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच किया है। आदेश में एसआई सीएस नेताम को मस्तूरी थाने, एएसआई शांतिलाल टोप्पो को पचपेड़ी थाने से, एएसआई दादूरैया सिंह को तोरवा थाने से, प्रधान आरक्षक अनिल साहू को बिल्हा थाने से व अन्य आरक्षकों को अलग-अलग थाने से पुलिस लाइन भेजा गया है।

Related Articles