रायपुर

तलाकशुदा महिला मां और बच्चों के साथ नदी में कूदी, नाविकों ने बचाया

रायपुर

एक महिला अपने दो बच्चों और मां के साथ खुदकुशी करने के इरादे से खारुन नदी में कूद गई। लेकिन उनकी इच्छा पूरी नहीं हो पाई। लोगों की उन पर नजर पड़ गई। इसके तत्काल बाद गोताखोर उन्हें बचाने में लग गए और सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। सभी की हालत खतरे से बाहर है। पुलिस के मुताबिक पुरानी बस्ती निवासी अंकिता मिश्रा का अपने पति मुकेश तिवारी से तलाक हो चुका है। तलाक के बाद से वह अपने मायके में रह रही है। उनके दो बच्चे इशांत (7) व हर्षिता (5) भी उनके साथ ही रहते हैं। अंकिता के मायके में रहने के चलते उनका अपने पिता चंद्रकांत मिश्रा से मनमुटाव होते रहता था। अंकिता की मां शुभलक्ष्मी उनके पक्ष में रहती थी। कई बार उन्हें ताना भी मारा जाता था। इससे दुखी रहती थी। सोमवार को भी ऐसा कुछ हुआ, जिससे वह निराश हो गई। इसके बाद अंकिता अपनी मां शुभलक्ष्मी और दोनों बच्चे इशांत व हर्षिता को लेकर दोपहर करीब 1.30 बजे घर से निकल गई। चारों महादेवघाट पहुंचे। वहां सावन सोमवार का मेला लगा हुआ था। इसलिए चारों दिनभर वहीं रहे। बच्चों को मेला घुमाया। इसके बाद शाम को करीब 6.30 बजे अंधेरा होने पर दोनों महिलाएं खारुन नदी के किनारे पहुंची और बच्चों को लेकर नदी में कूद पड़ी। उन पर कुछ लोगों की नजर पड़ गई। लोग उन्हें बचाने के लिए शोर मचाने लगे। वहां मौजूद गोताखोर और पुलिस मौके पर पहुंच गई और सभी को नदी से सुरक्षित बाहर निकाला गया। महिलाओं और बच्चों के नदी में डूबने की कोशिश करने की सूचना पर गोताखोर लोकनाथ धीवर, माखन धीवर, डायमंड धीवर ने तत्काल छलांग लगा दी और एक-एक करके सभी को नदी से बाहर निकाला। सभी को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। पूछताछ में शुभलक्ष्मी ने घरेलू विवाद की जानकारी दी। रायपुर पुरानी बस्ती के सीएसपी मनोज ध्रुव ने कहा, दोनों महिलाओं ने बच्चों के साथ नदी में डूबकर जान देने की कोशिश की। उन्होंने खोताखोरों की टीम ने बचाया।

Related Articles