छत्तीसगढ़

तेंदुए ने नौ वर्षीय बालिका का किया शिकार….जंगल में बच्ची के शव के मिले अवशेष

वन विभाग ने दी 25 हजार रुपए की सहायता राशि

गरियाबंद

ग्राम बम्हनी में मंगलवार को तेंदुआ ने गांव की नौ वर्षीय बालिका को अपना शिकार बना डाला। तलाशी में गुरुवार को वन विभाग और पुलिस की टीम को जंगल में बच्ची के शव के अवशेष मिला है। पुलिस से मिली जानकारी के गरियाबंद वन परिक्षेत्र के वन ग्राम बम्हनी निवासी सुबेलाल कमार की नौ वर्षीय बालिका रानी कमार (कक्षा तीसरी) मंगलवार शाम को घर से लापता हो गई थी। जिसकी तलाश बच्ची के परिजनों ने बुधवार शाम तक किया। बच्ची का पता नहीं चलने पर इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी गई। ग्रामीणो ने घटना की सूचना गुरुवार सुबह गरियाबंद सिटी कोतवाली पुलिस को दी। इस पर तत्काल गरियाबंद पुलिस अधीक्षक पारुल माथुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनन्दन राठौर, वन विभाग के एसडीओ मनोज चन्द्राकर और थाना प्रभारी वेदवती दरियो अपनी टीम के साथ ग्राम बम्हनी पहुंचे। दिनभर तलाश करने के बाद बच्ची की क्षत विक्षित लाश जंगल में पाई गई। शरीर के शेष हिस्से की तलाश पुलिस व वन विभाग की टीम कर रही है। तेंदुआ द्वारा बच्ची का शिकार करने की आशंका अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक और वन एसडीओ ने जताई है। साथ ही बच्ची के परिजन को तात्कालिक सहायता राशि पच्चीस हजार रुपए वन विभाग के एसडीओ मनोज चन्द्राकर व परिक्षेत्र अधिकारी पुष्पेंद्र साहू के द्वारा ग्राम के सरपंच अभिमन्यु ध्रुव और नरेंद्र ध्रुव अध्यक्ष सर्व आदिवासी समाज युवा के समक्ष दिया गया।

Related Articles