देश

बेरोजगार सिविल इंजीनियर ने सोते हुए बच्चों का टाइल्स कटर से काटा गला, फिर पति-पत्नी ने पी लिया जहर

भोपाल 

एक परिवार में दर्दनाक हादसा हुआ जहांं एक प‍िता ने 16 साल के बेटे और 14 साल की बेटी का टाइल्स कटर से गला काट द‍िया और फ‍िर पत‍ि-पत्नी ने जहर पी ल‍िया. रिपोर्ट के अनुसार बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से परेशान होकर पति-पत्नी ने ये कदम उठाया है.रिपोर्ट के अनुसार, मृतक सिविल इंजीनियर काफी दिनों से बेरोजगार थे और आर्थिक तंगी से परेशान होकर कदम उठाया है. मिसरोद थाना क्षेत्र के सहारा स्टेट का यह मामला है. मिसरोद थाना पुलिस के अनुसार, रवि ठाकरे (55) पुत्र लक्ष्मण राव ठाकरे परिवार समेत 102 मल्टी सहारा एस्टेट में रहते थे. परिवार में पत्नी रंजना ठाकरे (50) , बेटा चिराग ठाकरे (16) और बेटी गुंजन ठाकरे (14) है.जानकारी के अनुसार, रोजाना की तरह शनिवार सुबह करीब 8:30 बजे तक घर का कोई सदस्य नहीं उठा. इस पर पड़ोसियों को शंका हुई. उन्होंने खिड़की से झांक कर देखा तो दंग रह गए. पड़ोसियों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी.पुलिस ने चारों को तत्काल अस्पताल भिजवाया, जहां डॉक्टरों ने रवि और उनके बेटे चिराग को मृत घोषित कर दिया. वहीं पत्नी रंजना और बेटी गुंजन को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. पत्नी रंजना ने पुलिस को दिए बयान में घटना के पीछे आर्थिक स्थिति और अवसाद को वजह बताया है.

इसे भी पढ़े…. दोहरे हत्याकाड की गुत्थी सुलझाने में पुलिस को मिली कामयाबी….जमीन विवाद को लेकर सगे भाई व परिजनो ने ही मिलकर की हत्या

मिसरोद थाना प्रभारी निरंजन शर्मा ने बताया कि रवि ठाकरे सिविल इंजीनियर हैं, सहारा सिटी में रहते हैं. उनके परिवार में पत्नी और दो बच्चे थे. रात को 2 बजे के करीब सोते समय टाइल्स काटने के कटर से उन्होंने बेटे चिराग का गला काटा. इन लोगों ने बच्ची का भी गला काटना चाहा लेकिन उस समय कटर चलना बंद हो गया था. इसके बाद दोनों ने जहर पी लिया. बच्चे और बच्चे की मां को इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल भिजवा दिया है और शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.आर्थिक तंगी की वजह से उन्होंने सुसाइड किया है. घटनास्थल से मिले सुसाइड नोट में उन्होंने आर्थिक तंगी का उल्लेख किया गया है.

इसे भी पढ़े…. एक बार फिर ट्रेन इंजन के दो पहिए पटरी से नीचे उतरे, 2 घंटे की मशुक्कत के बाद पहियों को पटरी पर वापस चढ़ाया….जांच के आदेश

Related Articles