छत्तीसगढ़

कार में मिला 1 करोड़ का आभूषण … अवैध परिवहन करते कारोबारी पकड़ाए….

महासमुंद

अपराधों के प्रभावी नियंत्रण ले मद्देनजर जिले के सीमावर्ती थाना क्षेत्रों पर थाना प्रभारी वाहनों के सघन जांच करा रहे हैं। वाहन जांच के दौरान ही नौ सितंबर को सिंघोडा क्षेत्र के अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट रेहटीखोल में बरगढ ओडिशा की ओर से आती हुई एक सफेद रंग की कार क्रमांक सीजी 04 एमवाय 6506 को रोककर जांच की गईं। कार की तेजी गति और रोकने पर कार सवारों के चेहरे में शिकन से पुलिस को गड़बड़ी का अंदेशा हुआ। पूछताछ में वाहन चालक ने नाम हीरा लाल यादव व वाहन में बैठे अवध परते एवं सुनील जैन सभी रायपुर का रहना बताया। पुलिस इनसे आने जाने का कारण पूछी तो सभी के जवाब बदले मिले। जिससे संदेह होने पर वाहन की तलाशी ली गई तो पीछे सीट में बैग रखा मिला।

बैग को खोलकर चेक किया गया तो अलग-अलग प्लास्टिक थैलियों में सोने व चांदी के ज्वेलरी एवं नगदी रकम मिला। वाहन चालक हीरा लाल यादव 30 व वाहन में बैठे अवध परते 42 एवं सुनील जैन 63 निवासी साहू भवन के सामने बैरन बाजार रायपुर से नगदी रकम एवं सोने चांदी की ज्वेलरी के संबंध में सख्ती से पूछताछ करने पर सुनील जैन ने स्वयं का ज्वेलरी शॉप एसएस सिल्वर ज्वेलर्स शॉप सदर बाजार रायपुर में होना बताया।

चालक हीरा लाल यादव व स्टाफ अवध परते ने बताया कि साथ एसएस सिल्वर ज्वेलर्स के मालिक सुनील जैन के कहने पर ज्वेलर्स शॉप से सोने व चांदी की ज्वेलरी लेकर बरगढ ओडिशा के ज्वेलरी शॉप संचालकों को सैंपल दिखाने व बिक्री करने ओडिशा गए थे। बाद वे बिक्री की रकम व शेष बचे ज्वेलरी को लेकर वापस रायपुर जा रहे थे। पुलिस टीम ने ज्वेलर्स संचालक सुनील जैन से नगदी रकम व ज्वेलरी के संबंध में दस्तावेज दिखाने को कहा तो उन्होंने कोई भी वैधानिक दस्तावेज पेश नही किया। दस्तावेज नहीं होने से नगद साढ़े आठ लाख रुपये व सोने आभूषण 1139.243 ग्राम कीमत 55 लाख, 105 किलो ग्राम चांदी के आभूषण व सिल्ली कीमत 67 लाख रूपये व परिवहन में प्रयुक्त कार थाना सिंघोडा में जब्त कर आरोपितो को पुलिस अभिरक्षा में लिया व अग्रिम कार्रवाई के लिये आयकर विभाग को सूचना भेजी गई।

गुरुवार को पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी दिव्यांग पटेल, एएसपी मेघा टेंभुरकर, एसडीओपी सरायपाली विकास पाटले, टीआइ सिंघोडा चंद्रकांत साहू ने मामले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बड़ी मात्रा में बगैर दस्तावेज सोना चांदी आभूषण व नगद रकम परिवहन गैर कानूनी है। प्रथम दृष्टया यह तस्करी का मामला सामने आता है। बता दें कि इससे पहले भी ओडिशा छग सीमा पर लगे सिंघोडा पुलिस ने ऐसे ही और मामले पकड़े हैं, तब भी स्वर्ण रजत आभूषण व सिल्ली की तस्करी कार में गोपनीय चेम्बर बनाकर की जा रही थी। कार्रवाई में सिंघोड़ा उप निरीक्षक चंद्रकांत साहू, आरक्षक श्रीकांत भोई, दिनेश जायसवाल, जैकी प्रधान, चितरंजन प्रधान शामिल रहे।

Related Articles