देश

रेप पीड़िता ने फांसी लगाकर दी जान, आरोपी के जमानत पर रिहा होने से थी उदास

नागपुर 

एक नाबालिग रेप पीड़िता ने आत्महत्या कर ली. पीड़िता ने अपने घर पर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. कुछ दिन पहले ही आरोपी को जमानत पर रिहा किया गया था, तब से ही पीड़िता उदास थी. घटना नागपुर के जरीपटका इलाके की है, जहां एक 16 साल की लड़की ने कथित तौर पर खुदकुशी कर अपनी जान दे दी. लड़की के साथ जून में दुष्कर्म हुआ था. पीड़िता ने अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. लड़की अपने पिता, भाई और सौतेली मां के साथ रहती थी. पुलिस के मुताबिक, इसी साल 1 जून को सौतेली मां का रिश्तेदार विकास भुजाडे उसे भगा कर ले गया था. लड़की कई दिनों से गायब थी, इसलिए शुरुआत में गुमशुदगी का केस दर्ज किया गया. लेकिन एक महीने बाद 6 जुलाई को नागपुर पुलिस ने पीड़िता और आरोपी को बेंगलुरु में ढूंढ निकाला. जरीपटका थाने के पुलिस इंस्पेक्टर नितिन फटांगरे ने बताया कि पीड़िता ने अपने साथ हुए दुष्कर्म की बात माता-पिता को बताई थी, जिसके बाद आरोपी विकास पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था. उन्होंने बताया कि हाल ही में आरोपी को जमानत पर रिहा किया गया था. तभी से पीड़िता कुछ उदास रह रही थी. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और एक्सीडेंटल डेथ का केस दर्ज कर लिया है.

Related Articles