जांजगीर चांपा

जांजगीर-चांपा: कमाल के मेथमेटिशिन हैं जिले के SP प्रशांत….प्रेस से मिलिए में हुई कई पहलुओ पर चर्चा

मां के अदम्य साहस , परिश्रम और आशीर्वाद तथा संयुक्त परिवार में पोषण से आई मजबूती से ये मकाम आया है

जांजगीर-चांपा

जिले के पुलिस अधीक्षक प्रशांत सिंह ठाकुर ने प्रेस परिवार द्वारा आयोजित प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में अपने जीवन संघर्ष के कई पहलुओं को बेबाकी से साझा किया , उन्होंने कहा कि हमारी सफलता के पीछे सबसे बड़ी ताकत मेरी मां है , संयुक्त परिवार ने मजबूती दी है और इससे जो समझ और परिस्थितियों से अनुकुलन की क्षमता विकसित हुई है उसने एक इंसान और अधिकारी के रुप में कर्तव्यों के प्रति संवेदनशीलता से जागरुक रहने और कार्य को विधिवत पूरा करते रहने में सहायता दी है.

जांजगीर-चांपा: कमाल के मेथमेटिशिन हैं जिले के SP प्रशांत....प्रेस से मिलिए में हुई कई पहलुओ पर चर्चा Pradakshina Consulting PVT LTD

प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में तीसरे अतिथि के रुप में पहुंचे एस पी ने मां सरस्वती की प्रतिमा में दीप प्रज्वलन कर आशीर्वाद लिया, कार्यक्रम का आरंभ करते हुए प्रकाश शर्मा ने कार्यक्रम की भूमिका और पृष्ठभूमि स्पष्ट की तथा कार्यक्रम संचालन का भार डायमंड शुक्ला को सौंपा , पद्यात्मक संचालन के बीच प्रशांत सिंह ने अतिथि परिचय दिया , पत्रकारों ने पुष्पगुच्छ शाल एवं श्री फल से आगंतुक का स्वागत किया.

चर्चा के क्रम में श्री सिंह ने बताया कि प्रारंभिक शिक्षा जगदलपुर और बस्तर में करने के बाद गणित में स्नातकोत्तर किया । प्रतियोगी परीक्षा की तैयारियों के दौरान शौकिया तौर पर गणित का अध्यापन भी किया इसके पश्चात एमपी पीएससी में डीएसपी बतौर टॉपर ज्वाइन किया.
दुर्ग में कोविड के आपात स्थिति के दौरान स्मार्ट पुलिसिंग, पुलिस पब्लिक संवाद और क्राइम डिटेक्शन में तारीफेकाबिल काम करने के बाद जांजगीर में पुलिसिंग को संगठित ,सुदृढ़ और पब्लिक फ्रैंडली बनाना अगली चुनौती है ,जिस पर तेजी से अमल किया जा रहा है, उन्होने उम्मीद जाहिर करते हुए कहा कि जल्द ही बदलाव जिले की जनता महसूस करेगी , पब्लिक से सीधे सामना करने वाले पुलिस के सिपाही और हवलदारों में संवेदनशीलता बढाने और उन्हें बेहतर कार्य वातावरण देने की योजना बनाई जा रही है, स्वस्थ मानसिकता वाला पुलिस पब्लिक संवाद स्थापित किया जायेगा, क्राइम प्रीवेंशन के साथ सोशल रिस्पांसिबिलिटी हर पुलिस वर्दी अपनायेगी.

पुलिसिंग के अलावा अपनी ऱुचियों पर बात करते हुए एसपी ने कहा कि फोटोग्राफी और स्पोर्ट्स उन्हें भाते हैं। वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी उन्हे पसंद है । इसके अलावा फुटबाल और क्रिकेट खेलने में आनंद मिलता है. मैथमेटिक्स के विषय में बात करने पर उनके चेहरे में अलग ही आत्मविश्वास झलकने लगता है उन्होंने कहा कि मेथ्स की किताबें उनके कंफर्ट लेवल को बढ़ा देती हैं, कठिन पुलिसिंग के वक्त के कई प्रोब्लम्स गणितीय दिमाग ईजी कर देता है. उन्होंने कहा प्रेस से मिलिए पत्रकारों से संवाद के विशिष्ठ माध्यम के रुप में प्रसिध्द हो चुका है ,इसे निरंतर आयोजित करना जरुरी है ताकि संवाद का अलग ही स्तर कायम हो सके, संवाद की निरंतरता लगभग सभी समस्याओं को सुलझा सकती है.

कार्यक्रम के अंत में संजय राठौर और हरि अग्रवाल ने अतिथि ओर कार्यक्रम में सक्रिय पत्रकारों के प्रति आभार व्यक्त किया. कार्यक्रम में मुख्यालय सहित जिले के पत्रकार उपस्थित रहे.

Related Articles