जांजगीर चांपा

जांजगीर: दिवाली के दिन शिक्षक दंपती के घर से करीब 15 लाख की चोरी….डेढ़ महीने बाद है बेटी की शादी

सक्ती

दिवाली के दिन शिक्षक दंपती के घर से करीब 15 लाख की चोरी तब हुई जब दंपती अपने परिवार के साथ गमी कार्यक्रम में शामिल होने गये हुए थे। तभी देर रात चोरों ने वारदात को अंजाम दिया है। घर में रखे कुछ नकद और जेवरात चुरा ले गए। दंपती को शुक्रवार सुबह इस बात की जानकारी तब लगी जब आसपास के लोगों ने उन्हें फोनकर बताया। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई है। मामला सक्ती थाना क्षेत्र का है। सक्ती के बाराद्वार रोड में पेट्रोल पंप के सामने रहने वाले विरेंद्र राठौर और उनकी पत्नी सुशीला राठौर अपने बच्चों के साथ दिवाली के दिन नंदौरखुर्द गए थे।

विरेंद्र सक्ती से लगे मसनिया में पोस्टेड हैं। उनकी पत्नी सुशील सक्ती के ही कन्या हाईस्कूल में शिक्षिका के रूप में पदस्थ हैं। विरेंद्र ने बताया कि उनके परिवार में अचानक किसी की मृत्यु हुई थी। इसी वजह से वह गमी कार्यक्रम में शामिल होने सुबह ही घर से चले गए थे। विरेंद्र ने बताया कि वह जैसे ही घर लौटे तो घर का ताला टूटा हुआ था। अंदर सामने बिखरे हुए थे। हैरान की बात ये है कि घर का मेन गेट का ताला नहीं तोड़ा गया था। इसकी वजह से आशंका है कि देर रात चोर दीवार कूदकर अंदर दाखिल हुए होंगे। विरेंद्र ने अंदर आलमारी में देखा तो 30 हजार नकद और गहने गायब थे। इसके बाद उन्होंने इस बात की जानकारी तुरंत ही सक्ती पुलिस को दी। पुलिस टीम ने जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने बताया कि अब तक जांच में 30 हजार रुपए नकद, 27 तोला सोना और 150 तोला चांदी के चोरी होने की बात सामने आई है। कुल मिलाकर लगभग अब तक 15 लाख रुपए की चोरी होने की बात सामने आई है। मगर विरेंद्र का कहना है कि घर के अंदर और भी जेवरात थे जो चोरी हुए हैं, फिलहाल पुलिस की टीम जांच कर रही है। विरेंद्र ने बताया कि डेढ़ महीने के बाद बेटी की शादी। उसी वजह से हमने जेवरात शादी के लिए रखे थे।

Related Articles