छत्तीसगढ़

कछिया में एक दर्जन से अधिक हाथी बेहोश, कीटनाशक मिली सामग्री के सेवन की आशंका

सूरजपुर

जिले के बिहारपुर क्षेत्र में पिछले कई दिनों से नुकसान पहुंचा रहे हाथियों के दल में शामिल 17 से 18 हाथी ग्राम कछिया के समीप गिर गए है। सभी बेहोश है, शरीर में हलचल है लेकिन वे खड़े नहीं हो पा रहे हैं। इस घटना से वन विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। जिला मुख्यालय सूरजपुर से कछिया की दूरी लगभग डेढ़ सौ किलोमीटर की है अभी तक स्थानीय वन कर्मचारी ही मौके पर पहुंचे हैं। वन अधिकारी अथवा पशु चिकित्सकों की टीम मौके पर नहीं पहुंच सकी है। इस पूरे घटना की जानकारी गांव वालों के माध्यम से ही वन अमले तक पहुंची है। बताया जा रहा है कि तमोर पिंगला अभ्यारण क्षेत्र से लगे इस दूरस्थ इलाके में हाथियों द्वारा पिछले कई दिनों से नुकसान पहुंचाया जा रहा था। मकान तोड़ने फसलों को नुकसान पहुंचाने से गांव वाले भी त्रस्त थे। इन सबके बीच हाथियों के जमीन पर गिरे पड़े होने की घटना ने वन विभाग को भी चिंता में डाल दिया है। अभी तक कारणों की पुष्टि नहीं हुई है। संभावना जताई जा रही है कि हाथियों को या तो सुनियोजित तरीके से कीटनाशक मिश्रित खाद्य सामग्री दे दी गई है या फिर घर में रखी ऐसी सामग्री का सेवन उन्होंने कर लिया है जिससे स्वास्थ बिगड़ा है। अभी तक हाथियों का उपचार भी संभव नहीं हो सका है। सूरजपुर जिले के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डा. महेंद्र पांडेय का कहना है कि वे मौके के लिए रवाना हो रहे हैं ।यह परिस्थिति तभी संभव है जब किसी खाने की वस्तु में कीटनाशक मिलाकर दे दिया गया हो।

Related Articles