छत्तीसगढ़

प्रदेश में स्कूल कालेज खोलने कल कैबिनेट की बैठक में हो सकता है अहम निर्णय

रायपुर

कोरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने के बाद राज्य सरकार ने सभी जिलों को अनलॉक कर दिया गया है। जनजीवन पहले की तरह सामान्य होने के बाद अब ये कयास लगाए जा रहे हैं स्कूल और कॉलेज पहले की तरह छात्रों के लिए खोल दिए जाएंगे। इस पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कैबिनेट की बैठक बुलाई है। कल 20 जुलाई को राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में इस पर कोई फैसला हो सकता है। इस बीच माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कह दिया है, चालू शिक्षा सत्र में भी असाइनमेंट के आधार पर शिक्षा और मूल्यांकन की व्यवस्था लागू रहेगी। अफसरों का कहना है कि कोरोना के चलते शिक्षा सत्र 2021-22 में स्कूलों का संचालन शुरू होने में अनिश्चितता बनी हुई है।

CG बोर्ड सचिव प्रोफेसर वीके गोयल ने बताया कि पिछली बार की तरह इस वर्ष भी विद्यार्थियों को 6 असाइनमेंट दिए जाएंगे। पहला असाइनमेंट अगस्त महीने में जारी होगा। आखिरी असाइनमेंट जनवरी में मिलेगा। इस संबंध में प्राचार्यों को भी निर्देश जारी किए जा रहे हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल के इस निर्देश के मुताबिक 10वीं और 12वीं कक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम भी पिछले वर्ष की तरह कम ही रहेगा। मंडल ने पिछले वर्ष पाठ्यक्रम में 30 से 40% की कटौती की थी।

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने पिछले वर्ष असाइनमेंट आधारित शिक्षण व्यवस्था का फैसला देर से लिया था। ऐसे में पहला असाइनमेंट सितम्बर में दिया जा सका। उसके बाद हर महीने एक असाइनमेंट दिया जाता रहा। पिछले सत्र का आखिरी असाइनमेंट फरवरी 2021 में दिया गया था। सभी विषयों के लिए हर माह असाइनमेंट जारी किया जाता है। एक विषय के सेट में 5 प्रश्न होते हैं। शब्द सीमा में उत्तर लिखने होते हैं। प्रश्नों को ऐसे बनाया जाता है कि विद्यार्थी ने पाठ पढ़कर क्या सीखा है, इसका भी मूल्यांकन हो जाए।

Related Articles