Advertisement
छत्तीसगढ़

बेटों ने मिलकर कर दी बाप की हत्या : साथियों को भी मिला लिया था साथ, जमीन को लेकर था विवाद

कुरुद

छत्तीसगढ़ के कुरुद में संपत्ति के लालच में दो बेटों ने अपने अपने पिता की साथियों के साथ मिलकर हत्या कर दी। हत्या के बाद साक्ष्य छिपा कर पिता को सामान्य मृत्यु होना बताया। सामाजिक रीति रिवाज से शव का कफन-दफन भी कर दिया गया। मामले का खुलासा होने के बाद एक शव को कब्र से निकाला गया वहीं एक की हड्डियां इकट्ठी की गई। कलयुगी बेटों को उनके साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया है।

मामला कुरूद थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सिवनी कला और बकली का है। मामले का खुलासा होने के बाद एक शव को कब्र से निकाला गया। वहीं एक की हड्डियां इकट्ठी की गई। कलयुगी बेटों को उनके साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया है। मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि 27 मई 2024 को आवेदक भगीरथी पटेल और दीनानाथ देवांगन ने अलग-अलग थाना में लिखित आवेदन पेश किया कि, आवेदक भागीरथी पटेल के पिता स्व. फिरंता पटेल उम्र 82 वर्ष साकिन सिवनीकला को उसका बड़ा भाई पूनमचंद पटेल अपने साथी सुदामा देवांगन, मिथिलेश देवांगन एवं हरीश कुमार साहू के साथ मिलकर षड्यंत्र रचकर पैसों की लालच में 6 मार्च 24 की दरमियानी रात को अपने पिता फिरंता पटेल का मुंह, नाक, गला दबाकर हत्या कर साक्ष्य छिपा कर पिता को सामान्य मृत्यु होना बताया। सामाजिक रीति रिवाज से शव का कफन-दफन किया गया।

इसी तरह आवेदक दीनानाथ देवांगन के पारिवारिक भाई पंचराम देवांगन पिता भुवन राम देवांगन उम्र 60 वर्ष साकिन बकली थाना कुरूद को उसका पुत्र सुदामा देवांगन कर्ज में डूबने से अपने पैतृक जमीन को बेचना चाहता था। जिस पर मृतक पंचराम देवांगन को आपत्ति होने पर आरोपी सुदामा देवांगन अपने साथी पूनमचंद पटेल, हरीश कुमार साहू के साथ मिलकर दिनांक 14 मई 2024 को षड्यंत्र रचकर सुबह 10 बजे अपनी मां एवं पत्नी को खेत भेजने के बाद पिता पंचराम को अकेला पाकर टॉवेल से मुंह नाक गला दबाकर हत्या कर दी। साक्ष्य छिपाने के उद्देश्य से मृतक पंचराम का सामान्य मृत्यु होना बताकर शव को सामाजिक रीति रिवाज से दाह संस्कार किया।

25 मई को ग्राम बकली में ग्राम प्रमुख और ग्रामीणों के समक्ष उक्त चारों आरोपी ग्राम सिवनी कला एवं ग्राम बकली में अपराध करना स्वीकार करने पर आवेदन प्राप्त होने पर पृथक पृथक मर्ग कायमी कर मृतक फिरंता पटेल के शव को कार्यपालक मजिस्ट्रेट के समक्ष उत्खनन करवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया और मृतक पंचराम देवांगन के शव के शेष राख जब्त कर पृथक पृथक धारा 302, 201, 120 बी, 34 भादवि. कायम कर विवेचना में लिया गया।

आरोपी पुनमचंद पटेल द्वारा पिता की हत्या में साथी सुदामा देवांगन को 70,000/- रूपये, मिथलेश देवांगन को 70,000/- रूपये एवं हरीश कुमार साहू को 70,000/- रूपये देना स्वीकार किया है एवं ग्राम बकली में दिनांक 14.05.2024 को आरोपी पूनमचंद पटेल अपने प्लेटिना मोटर सायकल कमांक CG 05 AQ 5508 में आकर आरोपी सुदामा देवांगन, हरीश साहू के साथ मिलकर मृतक पंच राम देवांगन के हाथ पैर को पकड़कर गमछा से मुह नाक गला दबाकर हत्या करना स्वीकार किये है।

एएसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि, कुरूद पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ एवं मुखबिर सूचना एवं तकनीकी साक्ष्य के आधार पर संदेही पूनम चंद पटेल, सुदामा देवांगन, मिथलेश देवांगन एवं हरीश कुमार साहू को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर अपना अपना जुर्म स्वीकार करते हुए उक्त दोनों हत्या को षड्यंत्र रचकर एक राय होकर करना बताया।

Related Articles

Leave a Reply