Advertisement
देश

ज़मीन के अंदर दफ्न था लाशों का शहर, यहां खुदाई में निकली सदियों पुरानी कब्रें

मिस्र

दुनिया जैसी आज दिख रही है, जरूरी नहीं है कि अतीत में भी ऐसी ही हो. खुदाई के दौरान कई बार पुरातत्वविदों को ऐसी चीजें मिल जाती हैं, जिसे देखकर यकीन ही नहीं होता कि आज जिस जमीन पर हम खड़े हैं सदियों पहले उसके नीचे क्या दफ्न हुआ था. चलिए इसी कड़ी में आपको मुर्दों के शहर के बारे में बताते हैं, जिसे पुरातत्वविदों ने मिस्र में खुदाई के दौरान खोज निकाला है.

कहां है मुर्दों का शहर

मिस्र के मिलान यूनिवर्सिटी ने पिछले सप्ताह एक ऐतिहासिक खोज के बारे में दुनिया को बताया. उन्होंने कहा कि उनके पुरातत्वविदों ने दक्षिणी मिस्र में एक जगह खुदाई की और वहां उन्हें एक विशाल मुर्दों का शहर मिला है. दरअसल, इस जगह पर जमीन के नीचे एक साथ लगभग 300 से 400 कब्रें मौजूद हैं. सबसे हैरानी की बात ये है कि ये सभी कब्रें दक्षिणी मिस्र में असवान में आगा खान के मकबरे के पास पाई गई हैं.

यहां इतनी लाशें क्यों हैं?

मिलान यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर पैट्रिजिया मीडिया से बात करते हुए कहती हैं कि छठीं शताब्दी ईसा पूर्व से दूसरी शताब्दी ईस्वी तक जमीन के इस हिस्से का उपयोग कब्रों को दफनाने के लिए किया जाता था. यही वजह है कि आज यहां से इतनी लाशें मिल रही हैं. इनमें से ज्यादातर लाशें ममी के रूप में दफनाई गई हैं. यही वजह है कि कुछ लाशें अभी भी संरक्षित हैं. पैट्रिजिया का कहना है कि ये लाशें भले ही हाल फिलहाल में मिलना शुरू हुई हैं, लेकिन इस जगह पर खुदाई साल 2019 से ही शुरू हो गई थी.

इन कब्रों को लूटने की भी कोशिश हुई थी

इन कब्रों को लेकर पुरातत्वविदों का कहना है कि ग्रीको-रोमन काल में इन्हें लूटा भी गया था. लेकिन इस लूट के बाद भी आज यहां सैकड़ों की संख्या में कब्रें मौजूद हैं. इन कब्रों को इस तरह से संरक्षित किया गया है कि आप सोच भी नहीं सकते. इन्हीं कब्रों में से एक कब्र ऐसी है जिसमें एक वयस्क महिला के ऊपर एक छोटा बच्चा लेटा है. शायद इन दोनों की मृत्यु एक साथ हुई होगी. लेकिन यह दृश्य बेहद भावुक कर देने वाला था. पुरातत्वविदों का कहना है कि इन कब्रों में इस तरह के कई ममीकृत शव मिले हैं.

(साभार abp न्यूज़ )

Related Articles

Leave a Reply