छत्तीसगढ़

बड़ी खबर : चोरी मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार, 4 लाख 80 हजार रुपए बरामद

पेंड्रा 

चोरी मामले में मरवाही पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. मरवाही पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी सिवनी गांव में छुपे हुए थे. आरोपियों के सिवनी गांव में छुपे होने की इनपुट मिलते ही पुलिस ने तीन आरोपियों को धर दबोचा. आरोपियों के पास से 4 लाख 80 हजार नगद बरामद हुआ है. बता दें कि बीते दिनों गल्ला व्यापारी अशोक गुप्ता के घर से 8 लाख रुपए की चोरी हुई थी. मामले में पुलिस तफ्तीश में जुटी थी.

जानकारी के मुताबिक, ग्राम सिवनी निवासी अशोक गुप्ता गल्ला व्यापारी हैं। वह परिवार के साथ शादी में गए थे। जब 6 जुलाई को लौटे तो घर के दरवाजे का कुंदा टूटा हुआ था। अंदर अलमारी का भी दरवाजा टूटा था और उसमें रखे 4 लाख रुपए और 4 लाख रुपए कीमत के सोने-चांदी के गहने गायब थे। इस पर उन्होंने थाने में FIR दर्ज करा दी। इसके बाद पुलिस को सूचना मिली कि अशोक गुप्ता का एक रिश्तेदार शिवम गुप्ता गहने बेचने का प्रयास कर रहा है।

पुलिस ने शिवम गुप्ता को संदेह के आधार पर हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उसने दोस्तों राजकुमार दुबे और नीरज द्विवेदी के साथ चोरी करना कबूल कर लिया। पुलिस ने शिवम की निशानदेही पर उसके घर से चोरी किए 4 लाख रुपए के गहने और 50 हजार रुपए बरामद कर लिए। वहीं आरोपी राजकुमार और नीरज ने चोरी की रकम ग्राम सिवनी में महुआ पेड़ के नीचे छिपाकर रखे थे। वहां से 30 हजार जब्त किए गए। जबकि 3.20 लाख आरोपियों ने खर्च कर दिए।

पूछताछ में शिवम ने बताया कि 5 जुलाई को वह शाम करीब 7 बजे अशोक गुप्ता के यहां रात को चौकीदारी करने वाले मंगल सिंह के पास पहुंचा। वहां शिवम ने उससे अशोक गुप्ता से बात कर लौटने के बारे में पूछने को कहा। मंगल ने कॉल किया तो पता चला कि वह अगले दिन सुबह लौटने वाले हैं। इस पर उसी समय चोरी का षड्यंत्र किया और राजकुमार दुबे और नीरज द्विवेदी को बुलाया। शिवम और राजकुमार अंदर गए, नीरज बाहर निगरानी करता रहा।

मुख्य आरोपी शिवम गुप्ता टीबी का मरीज है। उसने अपने घर में बिना बताए उधार लेकर इलाज कराया। आरोपी राजकुमार दुबे उर्फ छोटू की जमीन उसके पैतृक गांव दारसागर में गिरवी है। जबकि नीरज द्विवेदी को अपनी गाड़ी का लोन चुकाना था। ऐसे में तीनों ने अपना-अपना कर्ज उतारने के लिए चोरी की साजिश रची। शिवम को पता था कि उसके रिश्तेदार अशोक गुप्ता परिवार सहित शादी में बाहर गए हैं। गल्ला व्यापारी होने के कारण उनके पास बहुत रुपया है।

Related Articles