छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़: दो सगी बहनों की सर्पदंश से मौत…परिवार मे छाया मातम

अंबिकापुर/वाड्रफनगर

सुबह उठकर दो सगी बहनों ने माता-पिता से कहा कि उन्हें अजीब सा लग रहा है, उन्हें किसी कीड़े ने काट लिया है। काटने वाली जगह पर परिजनों ने देखा तो समझ में आ गया कि सांप ने डसा है। आनन-फानन में दोनों को अस्पताल ले जाया गया। यहां इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई। 2 सगी बहनों की मौत से परिजनों में मातम पसरा हुआ है। लरामपुर-रामानुजगंज जिले के वाड्रफनगर ब्लॉक अंतर्गत ग्राम सुलसुली निवासी जगतपति की 2 बेटियां मुन्नी 17 वर्ष तथा शिवकुमारी 15 वर्ष 29 अगस्त की रात अपने कमरे में सो रही थीं। रात में उन्हें किसी जहरीले सांप ने डस लिया था। रात में कोई कीड़ा काटा होगा सोचकर उन्होंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। अलसुबह करीब 5 बजे दोनों की नींद खुली तो उन्होंने परिजनों से बताया कि उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है, अजीब सा एहसास हो रहा है। पूछने पर बताया कि रात में किसी चीज ने उन्हें काटा था। बेटियों द्वारा काटने वाले बताए गए स्थान पर मां ने देखा तो समझ में आ गया कि दोनों को सांप ने डस लिया है। जैसे ही पूरे घरवालों को ये बात पता चली, वहां कोहराम मच गया। फिर आनन-फानन में दोनों को 108 की मदद से वाड्रफनगर अस्पताल में भर्ती कराया गया। सर्पदंश से पीडि़त दोनों बहनों का इलाज डॉक्टरों द्वारा शुरु किया गया। एंटी स्नेक वेनम का डोज लगाने के बाद भी उनकी हालत में सुधार नहीं आया और कुछ समय बाद ही दोनों ने दम तोड़ दिया। बेटियों की मौत से परिजनों में मातम पसरा हुआ है।

Related Articles