छत्तीसगढ़

कोतवाली से महज कुछ दूरी पर ज्वेलरी दुकान में सेंधमारी…..50 लाख के जेवर व नकद पार

अंबिकापुर

शहर में बुधवार की रात कोतवाली से से महज कुछ दूरी पर थाना चौक स्थित एक ज्वेलरी दुकान में सेंधमारी कर चोरों ने 50 लाख रुपए से अधिक के जेवर व नकद उड़ा लिए। चोरी की वारदात दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद है। फिलहाल फोरेंसिक, डॉग स्क्वायड व पुलिस की टीम जांच में जुट गई है। बताया जा रहा है कि ज्वेलरी दुकान में 2 बार पहले भी चोरी का प्रयास हो चुका था लेकिन तीसरी बार चोरों के मंसूबे सफल हो गए। पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा जिले में अपनी पदस्थापना के दौरान अपराधों पर लगाम लगाने के कई प्रकार के दावे किए जाते हैं लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता जाता है, उनके दावे धरे के धरे रह जाते हैं। जनता को लगता है कि अपराध व अपराधियों पर अंकुश लगेगा लेकिन हर बार की तरह वे ठगे ही जाते हैं।इसका नतीजा यह है कि अपराधी बेखौफ होकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है। अपराधियों के हौसलों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि बुधवार की रात कोतवाली थाने से चंद कदमों की दूरी पर बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दे दिया गया। गौरतलब है कि थाना चौक स्थित सत्यम ज्वेलर्स का संचालक अशोक सोनी बुधवार की रात 9 बजे दुकान बंद कर घर चला गया था। गुरुवार की सुबह 10 बजे वह दुकान पहुंचा तो भीतर से रोशनी आती दिखाई दी। भीतर गया तो दीवार में बड़ा सेंध किया हुआ था तथा दुकान से 900 ग्राम सोने के जेवर कीमत 45 लाख तथा 7 किलोग्राम चांदी के जेवर कीमत 4 लाख गायब थे। इसके अलावा काउंटर में रखे 90 हजार रुपए नकद भी नहीं थे। हालात समझते संचालक को देर नहीं लगी और उसने इसकी सूचना तत्काल कोतवाली पुलिस को दी। चोरी की वारदात दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो चुकी है। रात 12 बजे चोरों ने दुकान के पीछे अभिरूचि केंद्र के पास से गुजरे बिजली के तार को काटकर ड्रिल मशीन से दुकान की दीवार में सेंधमारी की है। अलसुबह करीब 4 बजे एक व्यक्ति रैन कोट, मास्क व हैंड ग्लब्स पहनकर घुसा और ज्वेलरी तथा नकद बैग में भरकर सेंध वाली जगह से बाहर फेंका। इसके बाद बैग लेकर फरार हो गया। इस वारदात में 2 से अधिक लोगों के होने की संभावना जताई जा रही है। चोरी की वारदात की सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस, सीएसपी, फोरेंसिक व डॉग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने सीसीटीवी चेक किया तो वारदात को अंजाम देने वाला दिखा। वहीं चोरों द्वारा सेंधमारी की जगह गांजा पीने का अवशेष मिला है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज जब्त कर मामले की जांच में जुट गई है। सत्यम ज्वेलर्स में चोरी का पहले भी 2 बार प्रयास हो चुका था। दुकान संचालक के अनुसार दूसरी बार उसने कोतवाली में मामले की शिकायत की थी। इस दौरान पुलिस के कहने पर ही उसने दुकान के पीछे सीसीटीवी कैमरा लगवाया था। उसने पुलिस पर यह आरोप भी लगाया है कि यदि पुलिस शिकायत के बाद ही कार्रवाई की ओर कदम बढ़ाती तो चोरी की वारदात नहीं होती।

Related Articles