देश

अनोखा टोटका: उपसरपंच को गधे पर उल्टा बैठाकर घुमाया….इस संकट से निपटने किया ऐसा काम

रतलाम
यहां के किसान बारिश न होने से काफी परेशान हैं। रूठे मानसून से सोयाबीन की फसल पर पानी का संकट खड़ा हो गया है। बारिश कराने के लिए ग्रामीण टोटकों का सहारा लेने लगे हैं। ऐसा ही एक मामला रतलाम में सामने आया है, जहां उपसरपंच को ग्रामीणों ने गधे पर बैठा कर शोभायात्रा ढोल-नगाड़ों के साथ निकाली। ग्रामीणों का कहना है कि इससे इंद्र देव खुश होंगे और बारिश होगी।

ग्रामीण क्षेत्रों में मान्यता है कि बारिश नहीं होने पर इंद्र देव को प्रसन्न करने के लिए गांव के उपसरपंच द्वारा गधे की सवारी कर देवी-देवताओं का पूजन करने से अच्छी बारिश होती है। रतलाम के धराड़ गांव के उपसरपंच मनोज राठौड़ ने पहले
दरअसल, रतलाम जिले में मानसून की शुरुआत के बाद किसानों ने सोयाबीन की बुवाई कर दी थी, लेकिन बीते 10 दिनों से बारिश नहीं होने की वजह से अब किसानों की फसलें मुरझाने लगी है, जिसके लिए किसान अब तरह-तरह के टोटके कर रूठे इंद्रदेव को मनाने की कोशिश कर रहे हैं। धराड़ गांव के लोगों ने भी उपसरपंच मनोज राठौड़ को गधे की सवारी करवाई गई। इसके बाद गांव के लोगों ने देवी देवताओं की पूजा अर्चना कर अच्छी बारिश की प्रार्थना की।

गधे की सवारी की शोभायात्रा निकालने वाले ग्रामीणों ने कहा, पुराने दौर में बारिश नहीं होने पर रूठे इंद्रदेव को मनाने के लिए राजा गधे पर बैठकर सवारी करते थे। देवी-देवताओं की पूजा कर बारिश के लिए प्रार्थना करते थे। वर्तमान के दौर में गांव के सरपंच और उपसरपंच ही गांव के मुखिया होते हैं, इसलिए इंद्रदेव को मनाने के लिए गधे की सवारी निकाली जा रही है। गांव वालों की आस्था है कि इस तरह का टोटका करने से रूठे इंद्रदेव अच्छी बरसात करेंगे।

Related Articles