जांजगीर चांपा

जांजगीर: प्रकरण दर्ज होने के बाद समय पर न्यायालय में चालान प्रस्तुत करें – कलेक्टर

सतर्कता एवं मॉनिटरिंग समिति की बैठक सम्पन्न

जांजगीर-चांपा

कलेक्टर श्री जितेन्द्र कुमार शुक्ला की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के क्रियान्वयन के लिए गठित जिला स्तरीय सतर्कता एवं मॉनिटरिंग समिति की त्रैमासिक मंगलवार को आयोजित की गई। कलेक्टर ने कहा कि अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत थाने में दर्ज प्रकरणों को लंबित ना रखे। समय पर चालान प्रस्तुत होने से प्रार्थी को अनुसूचित जाति,जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत लाभ दिलाया जा सके।
सहायक आयुक्त आदिविकास ने अवगत कराया कि एससी/एसटी एक्ट के तहत वर्ष 2020-21 में 75 प्रकरण पंजीबद्ध किये गये थे। जिसमें से 63 प्रकरणों का निराकरण किया गया । इसके अलावा एक प्रकरण में दोष मुक्त तथा 12 प्रकरणों में पुलिस स्तर पर कार्रवाई लंबित है। वर्ष 2021-22 में 20 प्रकरण में से अब तक 5 प्रकरणों का निराकरण किया गया है । 15 प्रकरण पुलिस स्तर पर लंबित है।
बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री गजेन्द्र सिंह ठाकुर, संयुक्त कलेक्टर श्री राम कृपाल सिंह, उप संचालक कृषि, जिला शिक्षा अधिकारी सक्ती, सहित समिति के सदस्य उपस्थित थे।

Related Articles