छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ के 5 जिलों में अलर्ट, भारी बारिश होने की संभावना, बस्तर के कुछ इलाकों में सुबह हो रही बारिश  

बस्तर 

बस्तर संभाग के 5 जिलों में  बनी हुई है। वहीं 2 जिलों में हल्की बारिश होने की संभावना जताई गई है। सुबह से ही बस्तर के कई जिलों में मौसम सुहावना हो गया है। कुछ इलाकों में ठंडी हवाओं के साथ रिमझिम बारिश भी हो रही है। वहीं मंगलवार को न्यूनतम तापमान 27 डिग्री व अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस तक होगा।मौसम विभाग ने मंगलवार को संभाग के बस्तर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, सुकमा और नारायणपुर जिलों के लिए मध्यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इन जिलों में 64.5 से 115.5 MM तक बारिश हो सकती है। दंतेवाड़ा और सुकमा में मौसम सुहावना हो गया है, लेकिन जगदलपुर व नारायणपुर में धूप और बादल के साथ मौसम की आंख मिचौली चल रही है। इधर बस्तर संभाग के कांकेर और कोंडागांव जिले में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। यहां सुबह से ही धूप निकली हुई है। उमस और गर्मी से लोग हलाकान हो रहे हैं। वैज्ञानिकों की मानें तो इन दोनों जिलों में लगभग 15.6 से 64.4 MM बारिश हो सकती है। कांकेर व कोंडागांव में 1 जून से 12 जुलाई तक औसत से भी कम बारिश दर्ज की गई है। इधर बस्तर के सुकमा में औसत से भी ज्यादा 781.1 MM बारिश दर्ज हुई

जिला बारिश (MM)
बस्तर 280.2
दंतेवाड़ा 254.5
बीजापुर 368.8
कांकेर 292.2
कोंडागांव 315.5
सुकमा 781.1
नारायणपुर 367.3

बस्तर में ऐसे बन रहे बारिश के आसार
मौसम वैज्ञानिक एपी चंद्रा के अनुसार, एक निम्न दाब का क्षेत्र पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और उससे लगे उत्तर पश्चिम बंगाल, उत्तर तटीय आंध्रप्रदेश, दक्षिण तटीय ओड़िशा पर स्थित है। इसके साथ उपरी हवा का चक्रवाती घेरा मध्य ट्रोपोस्फेरिक लेवल तक विस्तारित है। एक द्रोणिका कच्छ से निम्न दाब के केन्द्र तक दक्षिण गुजरात, उत्तर मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, दक्षिण छत्तीसगढ़ और उत्तरी तटीय आंध्रप्रदेश होते हुए 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक विस्तारित है। पूर्व-पश्चिम 18 डिग्री उत्तर में 3.1 से 5.8 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।

Related Articles