छत्तीसगढ़

सिपाही की बाइक चोरी, 4 दिन बाद दर्ज हुई FIR

​​​​​​​जांजगीर

छत्तीसगढ़ की पुलिस भी अजब है। वह अपने सिपाहियों की ही नहीं सुन रही। जांजगीर में एक सिपाही की बाइक महज 15 मिनट में गार्डन के सामने से चोरी हो गई, लेकिन उसे FIR दर्ज कराने में उसे 4 दिन लग गए। खास बात यह है कि सिपाही ने नामजद FIR दर्ज कराई है, लेकिन फिर भी पुलिस अभी तक आरोपियों का पता नहीं लगा सकी है। मामला जांजगीर थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक, सिपाही सत्यदीप तिवारी जांजगीर के रक्षित केंद्र में पदस्थ है। वह 25 नवंबर की शाम करीब 6.15 बजे अपनी पत्नी स्वीटी तिवारी और दो बच्चों के साथ बीटीआई चौक स्थित बिसाहू दास महंत गार्डन घूमने गया था। उसने बाइक गार्डन के बाहर ही खड़ी कर दी और अंदर चला गया। करीब 15 मिनट बाद 6.30 बजे वापस आया तो बाइक गायब थी। इस पर सिपाही सत्यदीप ने आसपास पूछताछ की और जानकारी जुटाई। इस दौरान पता चला कि उसकी बाइक के पास तीन लड़के राम पांडेय, लखन पांडेय और पारिक सिरमोर खड़े थे। उनके जाने के बाद से ही बाइक नहीं दिखाई दी। इस पर सत्यदीप ने तीनों पर चोरी का संदेह जताते हुए FIR दर्ज कराई, लेकिन इसके बाद भी पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच सकी है। यह भी बताया जा रहा है कि सिपाही सत्यदीप ने बाइक चोरी होने के बाद खुद ही उसकी जांच शुरू कर दी। पूछताछ में लड़कों का नाम सामने आने के बाद वह उनके घर का पता लगाता हुआ वहां पहुंच गया। इस दौरान एक आरोपी के परिजनों से उसका विवाद भी हुआ। इसी सब में 4 दिन बीत गए, लेकिन इसके बाद भी जब बाइक का पता नहीं चला तो वह थाने में FIR दर्ज कराने पहुंचा।

Related Articles