जांजगीर चांपा

सास-बहू की हत्या कर पड़ोसी ने दी जान, खून से सनी मिली सास-बहू की लाश, घटना के बाद इलाके में फैल गई सनसनी

जांजगीर-चांपा

सोमवार देर रात पड़ोस में रहने वाले युवक ने सास-बहू की धारदार हथियार से हत्या कर दी। इसके बाद अपने ससुराल रायगढ़ भाग गया और वहां जहर पीकर अपनी जान दे दी। वारदात का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है। हालांकि बताया जा रहा है कि आरोपी युवक को अपने पड़ोसी पर पत्नी से अवैध संबंधों को लेकर शक था। वहीं दोनों के बीच पुरानी रंजिश भी बताई जा रही है। मामला डभरा थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक, खरकेना गांव निवासी संतोषी बाई रत्नाकर (35) पत्नी चिंतामणि और उसकी सास गुरबारी बाई (70) पत्नी स्व. लखन लाल की सोमवार देर रात हत्या कर दी गई। दोनों के गले पर धारदार हथियार से वार किया गया था। वारदात की सूचना पर सुबह पुलिस मौके पर पहुंची तो संतोषी बाई का शव कमरे में और गुरबारी बाई का बरामदे में पड़ा था। बताया जा रहा है कि वारदात के समय चिंतामणि दूसरे कमरे में बच्चों के साथ सो रहा था। पुलिस ने जांच शुरू की तो वारदात में पड़ोसी लक्ष्मण भारद्वाज का नाम सामने आया। पुलिस उसके घर पहुंची, लेकिन वह फरार हो चुका था। उसकी तलाश शुरू की तो आरोपी लक्ष्मण के रायगढ़ के खरसिया में तेलीकोट गांव स्थित ससुराल भागने की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने खरसिया थाने को इसकी जानकारी दी। इससे पहले कि पुलिस मौके पर पहुंचती लक्ष्मण जहरीला पदार्थ पीकर जान दे चुका था। इसके कारण हत्या की वजह सामने नहीं आई है। SDOP भवानी शंकर खूंटिया ने बताया कि आरोपी के भागने की जानकारी पर रायगढ़ के खरसिया थाने को सूचना दी गई थी। उनकी ओर से बताया गया कि आरोपी ने खुदकुशी कर ली है। वहीं खरसिया थाने के सब इंस्पेक्टर जेपी बंजारे ने बताया कि डायल-112 को सूचना मिली थी कि लक्ष्मण ने जहर पर लिया है। पुलिस मौके पर पहुंची और उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गई। वहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

Related Articles