छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में ठगी का जाल फैलाने वाली चिटफंड कंपनी के दो डायरेक्टर गिरफ्तार, एक बिहार तो दूसरा यूपी से पकड़ा गया

सूरजपुर

जिला पुलिस ने चिट फंड कंपनी फाइन इण्डिसेल्स प्रा.लि. के 2 डायरेक्टरों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने 5 लाख 20 हजार कीमत की 1 स्कोडा कार, 2 क्रेडिट कार्ड, 1 मोबाइल, 3 चेक जप्त किया है। पुलिस के मुताबिक सूरजपुर पुलिस की एक टीम ने कंपनी के डायरेक्टर दिवाकर सिन्हा को बिहार से पकड़ा। जिसके कब्जे से 1कार, मोबाइल 3 चेक समेत कुल कीमत 5 लाख 20 हजार रूपये का जप्त किया। जबकि पुलिस की दूसरी टीम ने कानपुर से कंपनी के डायरेक्टर सईद अहमद को उत्तरप्रदेश से पकड़ा। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि प्रारंभ में फाइन इण्डिसेल्स (फाइन इंडिया) प्रा.लि. कंपनी बनाकर नेटवर्किग सिस्टम से जोड़ा गया, कंपनी से जुड़ने के लिए 2 हजार रूपये सदस्य शुल्क लेकर उन्हें सामग्री की पैकेट दी जाती थी। बाद में उसे बढ़ाकर 10 हजार रूपये कर दिया गया और उसकी भी सामग्री दी जाने लगी। नेटवर्किंग सिस्टम में जो एजेंट जितने ज्यादा सदस्य बनाता था उसे प्रत्येक सदस्य से 1 हजार रुपये कमीशन दी जाती थी। इस प्रकार करोड़ों-अरबों की धोखाधड़ी की गई। प्रचार-प्रसार के अभाव एवं एजेंट बढ़ाने के उद्देश्य से कंपनी का ऑफिस कानपुर उत्तरप्रदेश से बढ़ाते हुए मुम्बई में प्रारंभ किया गया। इन जगहों से पूरे भारतवर्ष में धोखाधड़ी को अंजाम दिया गया। सूरजपुर जिले से 132 इन्वेस्टरों से करीब के 98 लाख की रकम की धोखाधड़ी की गई है। कोलकाता में इनके खिलाफ सीबीआई की जांच चल रही है तो वहीं कटक ओडिशा में सीबीआई न्यायालय में प्रकरण विचारण में है। पुलिस ने बताया कि जिले में थाना सूरजपुर के अलावा जिला जांजगीर-चाम्पा में 3 प्रकरण, जिला कांकेर में 1 प्रकरण, जिला बालोद में 2 प्रकरण एवं जिला राजनांदगांव 1 प्रकरण समेत कुल 8 मामले छत्तीसगढ़ में इस कंपनी के खिलाफ दर्ज हैं।

Related Articles